July 29, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

बिहार: CM नीतीश को करना था पूल का उद्घाटन, 12 घंटे पहले ही बह गया

मंगलवार की रात बिहार में एक बार फिर एक पूल की अप्रोच रोड टूट गई। लेकिन इस बार हैरत की बात ये रही कि छपरा के इस पूल की अप्रोच रोड उद्घाटन से पहले ही टूट गई। आज ही यानि बुधवार को सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इसका उद्घाटन करना था। उद्घाटन सुबह 11:30 बजे होना था। और पुल की एप्रोच रोड इससे पहले ही मंगलवार रात करीब 12:30 बजे बाढ़ के पानी में बह गई।

करीब 50 मीटर टूटी इस अप्रोच रोड का आनन-फानन में मरम्मत का काम शुरू हुआ। और उद्घाटन से महज 30 मिनट पहले यह काम पूरा हुआ। इस दौरान बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के तमाम आलाधिकारी मौके मौजूद थे। चूँकि मरम्मत के काम को जल्दी से जल्दी निपटाना था। लिहाजा बड़ी संख्या में मजदूर और 2 जेसीबी लगाकर जैसे-तैसे सड़क को ठीक किया गया। जहां रोड टूटी वह इलाका सारण के सतजोड़ा बाजार के समीप का बताया जा रहा है।

रिपोर्ट्स के हवाले से बताया जा रहा है कि बैकुंठपुर में सारण बांध टूटने की वजह से बंगरा घाट मेगा ब्रिज की अप्रोच रोड टूटी है। इस पुल की लागत 509 करोड़ रुपये बताई जा रही है। जो 6 जिलों की करीब 8 लाख की आबादी की आवाजाही आसान बनाने वाला था। इस पूल के बनने से गोपालगंज, सीवान और सारण से मुजफ्फरपुर की दूरी 55 किमी, दरभंगा की दूरी 65 किमी और जनकपुर की दूरी 70 किमी कम हो जानी है।

तेजश्वी यादव, सहित कई बड़े नेताओं ने इस पर सवाल उठाये है।

यादव  ने ट्विटर पर लिखा की नीतीश कुमार ने वर्षों से 509 करोड़ की लागत से बन रहे बंगरा घाट पुल का अभी आनन-फानन में उद्घाटन कर दिया लेकिन पुल की अप्रोच पथ टूटी हुई है। टूटे हुए पुलों, पथों और बाँधों के उद्घाटन की इन्हें इतनी जल्दी क्यों है। उद्घाटन से पहले ही पथ टूटना इनके काले भ्रष्टाचार की पोल खोल रहा है।

इससे पहले गोपालगंज के ही बैकुंठपुर में भी पिछले महीने 15 जुलाई को गोपालगंज में सत्तरघाट ब्रिज की अप्रोच रोड टूट गई थी। जिस पर भी सरकार की खूब किरकरी हुई थी।

%d bloggers like this: