June 18, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

आईपीएल 2021 : आकाश चोपड़ा का बड़ा बयान – सीएसके को धोनी को बरक़रार नहीं रखना चाहिए

aakash chopra statement on dhoni, वृतांत - Vritaant

भारत के पूर्व बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने कहा कि चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके ) को  इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के अगले साल के संस्करण से पहले मेगा नीलामी होने पर एमएस धोनी को बरक़रार नहीं रखना चाहिए। चोपड़ा ने कारण दिया कि अगर सीएसके धोनी को बरक़रार रखता है तो उनको इसके लिए 15 करोड़ रूपये खर्च करने पड़ेंगे। भारत के पूर्व बल्लेबाज ने सुझाव दिया कि सीएसके को धोनी को वापस पूल में भेजना चाहिए और फिर राइट-टू-मैच कार्ड के माध्यम से धोनी को खरीद सकते है। ऐसा करने से सीएसके कुछ पैसे बचा सकता है और एक अच्छी टीम भी बना सकता है।

आकाश चोपड़ा ने फेसबुक पर एक वीडियो में कहा – मुझे लगता है कि सीएसके को एमएस धोनी को मेगा नीलामी में रिलीज़ करना चाहिए, अगर मेगा नीलामी होती है तो आप उस खिलाडी के साथ तीन साल तक रहेंगे। लेकिन क्या धोनी तीन साल तक आपके साथ रहेंगे ? मैं यह नहीं कह रहा हूँ कि धोनी रहेंगे, वह अगला आईपीएल खलेंगे, लेकिन अगर आप उन्हें रिटेन खिलाडी के रूप में रखते है तो आपको 15 करोड़ रूपये खर्च करने पड़ेंगे। अगर धोनी तीन साल तक आपके साथ नहीं रहते है और वह सिर्फ 2021 का आईपीएल ही खलेते है तो आपको 2022 संस्करण के लिए 15 करोड़ रूपये वापस मिल जायेंगे, लेकिन आप खिलाडी को 15 रूपये का खिलाडी कहा से लाएंगे ? यह मेगा नीलामी का लाभ है, यदि आपके पास पैसा है तो आप एक बड़ी टीम बना सकते है।

यदि आप धोनी को मेगा नीलामी के लिए जारी करते है तो आप उन्हें मैच कार्ड के अधिकार के साथ चुन सकते है और आप वांछित पैसे देकर सही खिलाड़ियों को चुन सकते है। आकाश चोपड़ा ने यह भी कहा कि आईपीएल में वर्तमान में सभी आठ फ्रेंचाइजी में सीएसके ऐसा है जिसे अगले साल के आईपीएल से आगे होने होने के लिए एक मेगा नीलामी की आवश्यकता है। वर्त्तमान में यह पता नहीं है कि सीएसके इस साल खेले गए खिलाड़ियों में किसको रिटेन करेगा और किसको रिलीज़। शेन वाटसन ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से पहले ही सन्यास की घोषणा कर दी है। इसके परिणामस्वरूप वह अगले साल के आईपीएल में नहीं खेलेंगे सीएसके को मेगा नीलामी की आवश्यकता है, इनके पास ऐसे कई खिलाडी नहीं है जिन्हे बरक़रार रखा जा सकता है। सीएसके के पास मेगा नीलामी के चलते एक नयी टीम बनाने का मौका है जिससे वे अपने आईपीएल के अच्छे प्रदर्शन को बरक़रार रख सके।