August 5, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

आईपीएल 2020 : आठ साल बहुत ही लम्बा समय है, आरसीबी की कप्तानी विराट कोहली को नहीं करनी चाहिए- गौतम गंभीर

रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर फिर से अपने पहले आईपीएल का ख़िताब पाने की खोज में असफल रही। आरसीबी ने शुरुवात में प्रभावित किया लेकिन पिछले पांच मैच में गति हासिल करने में असफल रहा। आरसीबी ने लगातार पांच मैच हारने के बाद भी प्ले ऑफ में काफी कम रन रेट से प्ले ऑफ में क्वालीफाई किया। शुक्रवार को एलिमिनेटर में सनराइज़र्स हैदराबाद ने  छह विकेट से हारकर उन्हें आईपीएल 2020 से बाहर कर दिया गया। आरसीबी को यह ख़िताब मिलने का लम्बे समय से इंतजार था। वे कभी भी ख़िताब नहीं जीतने वाली तीन टीमों में से एक है और पिछले तीन संस्करणों में निराशाजनक प्रदर्शन किया है।

आईपीएल 2020 आरसीबी के लिए बहुत ही अच्छा जा रहा था लेकिन पिछले मैच ने कप्तान विराट कोहली को आलोचनाओं का सामना करने के लिए मजबूर कर दिया। आरसीबी ने पिछले 8 वर्षो से कोहली पर आईपीएल ख़िताब के लिए नेतृत्व करने की जिम्मेदारी दी है लेकिन वह उनके लिए परिणाम देने में असफल रहे है। भले ही आरसीबी 2016 में फाइनल में पंहुचा था, लेकिन वे फिर भी वंचित परिणाम देने में असफल रहे है। भारत के पूर्व बल्लेबाज और दो बार के आईपीएल विजेता कप्तान गौतम ने आरसीबी को हैदराबाद से मैच गवाने के बाद कोहली की कप्तानी के बारे में बात की और कहा कि परिणामो के लिए 32 वर्षीय कप्तान के लिए जवाबदेह होने का समय है।

जब गंभीर से पूछा गया कि क्या वे कप्तानी में बदलाव करेंगे ? तो उन्होंने कहा कि 100% क्योकि समस्या जवाबदेही के बारे में है। टूर्नामेंट में आठ साल बहुत लम्बा समय होता है। मुझे कोई अन्य कप्तान बताइये या कोई  ऐसा खिलाडी बताइये जिसे आठ साल हो गए होंगे और उसने ख़िताब नहीं जीता होगा और अभी भी उसके साथ जारी रहेगा। इसलिए इसकी जवाबदेही होना चाहिए। एक कप्तान को जवाबदेही लेने की जरुरत है। यह केवल एक वर्ष के बारे में नहीं है। मेरे पास विराट कोहली के खिलाफ कुछ नहीं है लेकिन कही न कही लाइन के नीचे उन्हें अपना हाथ डालने की जरुरत है। समस्या और जवाबदेही ऊपर से शुरू होती है, प्रबंधन से नहीं न ही सहायक कर्मचारियों से लेकिन आप एक टीक के लीडर है। आप टीम के कप्तान है, जब आपको श्रेय मिलता है तो आपको आलोचना का सामना भी करना चाहिए।

गंभीर ने आगे कहा कि देखिये आर आश्विन के साथ क्या हुआ। दो साल पंजाब के लिए कप्तानी की, लेकिन जब वे अच्छे परिणाम नहीं दे सके तो उन्हें हटा दिया गया। हम एमएस धोनी के बारे में बात करते है, हम रोहित शर्मा के बारे में बात करते है, लेकिन कोई भी विराट कोहली के बारे में बात नहीं करता। धोनी ने तीन आईपीएल ख़िताब जीते है, रोहित शर्मा ने चार ख़िताब जीते है और यही कारण कि उन्होंने ईटें लम्बे समय तक कप्तानी की क्योकि उन्होंने परिणाम दिया है।

%d bloggers like this: