June 18, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

जयपुर: ऑडी कार चलाने वाली लड़की ने एक युवक की जान ली, 100 की रफ्तार में भयानक टक्कर से युवक पुल से घर की छत पर जा गिरा

girl killed a man by audi car, वृतांत - Vritaant

राजस्थान की राजधानी जयपुर में शुक्रवार सुबह एक भीषण सड़क दुर्घटना में कांस्टेबल भर्ती परीक्षा देने के लिए पाली से आये एक युवक की मौत हो गयी। जयपुर में एलिवेटेड रोड पर चलते समय ऑडी कार से टकराने के कारण यह हादसा हुआ। तेज रफ़्तार कार ने इस कदर टक्कर मारी कि युवक करीब 100 फ़ीट दूर एक माकन की छत पर जा गिरा। छत पर गिरने से युवक की मौत हो गयी जबकि इस टक्कर ने उसका एक पैर भी शरीर से अलग हो गया। इस घटना के बाद पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ट्वीट किया किया कि यह दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और साथ ही सामाजिक लापरवाही का एक बड़ा सबूत है। उन्होंने कहा कि वाहन चलाते समय हमेशा गति को नियंत्रण में रखे और सड़क पर किसी भी प्रकार का अपराध नहीं करे।

दूसरी ओर जयपुर पुलिस के अनुसार कार नेहा सोनी नाम की लड़की चला रही थी और प्रज्ञा अग्रवाल उसके साथ मौजूद थी। हादसे के वक्त एयर बैग के खुलने से दोनों लड़कियों को खरोच तक नहीं आयी जबकि युवक की मौके पर मौत हो गयी। हादसे से प्रज्ञा अग्रवाल बुरी तरह घबरा गयी थी, जिसके कारण उसे अस्पताल ने भर्ती कराना पड़ा। हादसे के बाद हादसे की सुचना पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और जाँच शुरू की। पुलिस की प्रारंभिक जाँच में सामने आया है कि ऑडी कार चलाने वाली लड़की नेहा सोनी के पास ड्राइविंग लाइसेंस भी नहीं था। हालाँकि, फ़िलहाल यह स्पष्ट नहीं था कि दोनों लड़किया ऊँची सड़क पर तेज गति से क्यों दौड़ रही थी। पुलिस के अनुसार घटना के समय कार की गति 100 किमी प्रति घंटा से अधिक रही होगी।

युवक नागौर से कांस्टेबल भर्ती परीक्षा देने पंहुचा था। पीड़ित युवक की पहचान पाली निवासी के रूप में हुई है। राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा देने के लिए युवक पाली से आया था। दुर्घटना में युवक का एक पैर काट गया और शेष शरीर उछल कर एक मकान की छत पर गिर गया। उधर मौके से भागने के क्रम में दोनों युवतियों को राहगीरों ने पकड़ लिया जिसके बाद पुलिस उन्हें हिरासत में लेकर थाने ले गयी। टक्कर इतनी तेज थी कि कार बाइक सवार को टक्कर मारने के बाद पुल पर लगे बिजली के खम्बे से भिड़ी और खम्बा उखड़कर नीचे अजमेर रोड पर जा गिरा। गनीमत रहा कि उस समय कोई भी व्यक्ति वहा नहीं था, वरना एक और भयानक दुर्घटना हो सकती थी।