June 18, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

राजस्थान में आज से धारा 144 के तहत सभी प्रतिबंध लागु होंगे

govt emposed section 144 in rajasthan, वृतांत - Vritaant

राजस्थान में कोरोना वायरस के मामलो की संख्या में वृद्धि के मद्देनजर राज्य के गृह विभाग ने जयपुर और जोधपुर के सभी जिला कलेक्टरो और पुलिस आयुक्तों को लिखकर 21 नवंबर से 33 जिलों में धारा 144 के तहत सभी प्रतिबंध लगाने की सलाह दी है। यह लोगो में संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए किया जायेगा। गृह सचिव एन एल मीणा ने जिलों को जारी एक आदेश में कहा कि कोविद-19 संक्रमण के प्रसार की गंभीरता को देखते हुए, यह मानव जीवन और लोगो के स्वास्थय की स्थिति के लिए जोखिम पैदा करता है। लोगो के बीच कोविद -19 संक्रमण के प्रसार पर रोक लगाने के लिए 21 नवंबर के आदेश से धारा 144 के तहत सभी प्रतिबंध लगाने की सलाह दी गयी है।

मीणा ने कहा कि राज्य में स्थिति को देखते हुए जिलों में धारा 144 लागु करने की आवश्यकता है। इससे पहले मार्च में हमने जिलों में धारा 144 के तहत प्रतिबंध लगाने की सलाह दी थी। उसी क्रम को जारी रखत हुए फिर से हमने उन्हें 21 नवंबर से इस लागु करने के लिए लिखित में सलाह दी है। यदि सभी जिले इसे एक ही दिन में क्रियान्वित करते है तो प्रवर्तन में एकरूपता होगी। शुक्रवार को शाम ६ बजे तक राजस्थान में 2,762 पॉजिटिव मामले दर्ज किये गए जो राज्य में कुल संचयी पॉजिटिव मामलो में 2.37 लाख तक ले गए। राज्य में अब कुल 2.14 लाख रोगियों को पहले ही छुट्टी दे दी जा चुकी है। इसके अलावा कोरोना से अब तक राज्य में 2,130 मौते हो चुकी है।

राजस्थान में सर्दिया बढ़ने से नवंबर के माह में कोरोना के मामले भी बढ़ना शुरू हो चुके है। एक ही दिन में राज्य में ढाई हजार से अधुक कोरोना पॉजिटिव मामले आये और इसके अल्वा 15 जिलों में 15 लोगो की कोरोना से मौत भी हो गयी। इसी को देखते हुए राज्य सरकार ने अब कानून में सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। शुक्रवार को इस स्थिति को देखते हुए मुख्य मंत्री अशोक गहलोत ने घोषणा की कि शनिवार 21 नवंबर से राज्य में धारा 144 लागु की जाएगी। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलो को देखते हुए केंद्र सरकार ने गुरुवार को एक केंद्रीय टीम को राजस्थान भेजा था। केंद्र ने टीम को हरियाणा, गुजरात और मणिपुर भी भेजा था ताकि इन राज्यों को कोरोना वायरस पॉजिटिव मामलो के नियंत्रण, निगरानी, परीक्षण और कुशल नैदानिक प्रबंधन को मजबूत करने की दिशा में प्रयासों का समर्थन किया जा सके।

राजस्थान के अलावा दिल्ली सरकार ने भी कोरोना के बढ़ते मामलो के कारण मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है और मास्क नहीं लगाने पर 2,000 रूपये का जुर्माना भी लगाया जायेगा। दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना वायरस से १०० से अधिक लोगो की मौत हो गयी। कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए अब सभी राज्य सरकारे कड़े फैसले ले रही है और कई कठिन प्रतिबंध लगाने की तेरी कर रही है।