July 29, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

राजस्थान : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 30 नवंबर तक स्कूल नही खोलने के आदेश दिए

राजस्थान में एक बार फिर से कोरोना का प्रभाव तेज हो गया है। प्रदेश में लगातार कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। इसी के चलते राज्य सरकार ने एक अहम् फैसला लिया है। मुख्य मंत्री अशोक गहलोत ने आदेश दिए है की 30 नवंबर तक प्रदेश के सभी स्कूल, कॉलेज और अन्य कोचिंग संस्थानों को बंद रखा जाये। अब राजस्थान में स्कूल एक बार फिर से बंद हो गए है। अब 30 नवंबर तक कोई भी शैक्षणिक संस्थान नहीं खोला जा सकेगा। पहले शैक्षणिक संस्थानों को कुछ शर्तो और नियमो का पालन करते हुए खोला गया था। लेकिन कोरोना महामारी के बढ़ जाने के करण सरकार ने यह बड़ा फैसला लिया है।

इससे पहले सरकार ने 16 नवम्बर तक शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने का फैसला किया था। लेकिन अब सरकार ने इसे आगे बढ़ा दिया है। अभी फ़िलहाल असमंजस की स्थिति बनी हुई है की शैक्षणिक संस्थानों को खोलना चाहिए या नहीं। इससे पहले केंद्र सरकार ने 21 सितम्बर को अनलॉक 5.0 के साथ स्कूलों को खोलने के निर्देश दिए थे। इसके बाद राज्य सरकार ने 15 अक्टूबर तक स्कूलों को नहीं खोलने का फैसला किया था। लेकिन फिर से  १ नवंबर को राज्य के गृह विभाग ने १ नवंबर को आदेश जारी किया कि 16 नवंबर तक शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर दिया जाये और यह आदेश अब 30 नवंबर तक बढ़ चूका है।

अनलॉक 6.0 में केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को शैक्षणिक संस्थान खोलने के अधिकार दे दिए थे। कुछ राज्यों ने कोरोना की स्थिति के मध्यनजर स्कूलों को खोलने के लिए आदेश जारी कर दिए थे लेकिन कई राज्यों ने स्थिति नाजुक होने के कारण स्कूलों को खोलने के निर्णय को स्थगित कर दिया था। कहा जा रहा है कि छात्रों के अभिभावक स्कूलों को खोलने के पक्ष में नहीं है। इसके अलावा ऑनलाइन पढाई से परेशान छात्र स्कूल जाना चाहते है। हालाँकि सरकार ने फ़िलहाल 9वी से 12वी तक के छात्रों को ही स्कूल में बुलाने के लिए आदेश दिए थे और बाकि कक्षाओं की पढाई ऑनलाइन जारी रखने को कहा था। राज्य सरकार ने अनलॉक 6.0 के लिए गाइड लाइन तैयार राखी हुई है जो पहले की तरह लागु की जाएगी। अब राज्य सरकार 30 नवंबर के बाद शैक्षणिक संस्थानों को खोलने के बारे में कोई नया फैसला लेगी।

%d bloggers like this: