June 17, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

एटीएम बदलकर ग्राहकों के पैसे निकालने वाली हरियाणा की गैंग के तीन सदस्य गिरफ्तार

ATM Fraud news in hindi, वृतांत - Vritaant

अलवर। पुलिस थाना अरावली विहार व जिला स्पेशल टीम (डीएसटी) ने एटीएम बदलकर ग्राहकों के पैसे निकालने वाली हरियाणा की गैंग के तीन सदस्यों को हथियार सहित गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके पास से अलग-अलग बैंकों के 67 एटीएम कार्ड व एक पेटीएम कार्ड सहित कार को बरामद किया है। जहीर अब्बास (थानाधिकारी) ने बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम के निर्देशानुसार एटीएम कार्ड बदलकर ग्राहकों के खाते से पैसे निकालने की वारदातों की रोकथाम के लिए ऐसी गैंग को चिन्हित कर उन पर प्रभावी कार्रवाई करने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्रीमन लाल मीना एवं आईपीएस सहायक पुलिस अधीक्षक वृत अलवर विकास सांगवान व वृताधिकारी वृत ग्रामीण सपात के निर्देशन में टीम का गठन कर कार्रवाई को अंजाम दिया गया।

थानाधिकारी ने बताया कि गठित टीम द्वारा उच्चाधिकारियों के निर्देशन में रहते हुए आसूचना संकलन की गई। इसी दौरान मोती डूंगरी स्थित एसबीआई एटीएम बूथ के पास वारदात की फिराक में घूम रहे तीन लोगों को देशी कट्टा व कारतूस तथा विभिन्न बैंकों के 67 एटीएम कार्ड व एक पेटीएम कार्ड, कार सहित गोरफ्तार किया है।

तीनों आरोपी हरियाणा निवासी 
गिरफ्तार आरोपी हरियाणा नूंह मेवात निवासी 32 वर्षीय अनवर पुत्र आस मौहम्मद, पलवल निवासी 28 वर्षीय ईसा खां पुत्र खुर्शीद व तावडू नूंह निवासी 40 वर्षीय राहिल पुत्र आस मौहम्मद को गिरफ्तार किया है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। पूछताछ में जिले में हुई अन्य वारदात के खुलने की संभावना है।

ऐसे देते थे वारदात को अंजाम
अब तक की पूछताछ के आधार पर पाया गया कि गिरफ्तार आरोपी में से अनवर गैंग का सरगना है। जो एटीएम मशीन में तकनीकी खराबी कर उसे हैक कर देता है। उसके बाद ग्राहक के आने पर पलक झलकते ही ग्राहकों के एटीएम कार्ड बदल लेता है। ये लोग एटीएम बूथ के आसपास खड़े रहकर ऐसे ग्राहकों का इंतजार करते है। जिनको एटीएम से रूपये निकालना नहीं आता।

जिन ग्राहकों को बातों में लगाकर उनका पिन नम्बर चोरी से देख लेते है व एटीएम कार्ड बदल लेते है और अपने पास पहले से रखे उसी बैंक का एटीएम कार्ड ग्राहकों को थमा देते है। इसके बाद ग्राहक को यह कहते हुए लौटा देते है कि एटीएम खराब है। उसके बाद ये लोग दूर जाकर एटीएम से पैसे निकाल लेते है।