June 25, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

किसान आंदोलन: किसानो का समर्थन करने के लिए दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल करेंगे उपवास, सभी से किसानो को सपोर्ट करने की अपील की

मोदी सरकार किसान आंदोलन पर क्यों है चुप ?, वृतांत - Vritaant

केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ कई दिनों से चल रहे किसान आंदोलन ने और भी तेजी पकड़ ली है। किसानो ने सरकार द्वारा मांगे पूरी नहीं होने पर नए तरीको से आंदोलन को तेज किया है। कुछ दिन पहले ही किसानो ने देशभर में ट्रेनों को रोकने की घोषणा की थी और उसके बाद मुकेश अम्बानी की जिओ और अडानी ग्रुप दी जाने वाली सेवाओं का बहिष्कार किया था। हाल ही में किसानो ने पंजाब और हरियाणा के कई टोल प्लाजा पर कब्ज़ा करके टोल को फ्री कर दिया। दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुरू से किसानो का समर्थन किया है। हाल ही में अरविंद केजरीवाल ने एक और नयी घोषणा की है। केजरीवाल ने कहा है कि सोमवार को वे किसानो के समर्थन में उपवास करेंगे और इसके अलावा उन्होंने अपनी पार्टी आप के कार्यकर्ताओ से भी ऐसा करने की अपील की है।

केजरीवाल ने केंद्र सरकार से तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए भी कहा है जिनके कारण किसानो को सड़को पर उतर कर आंदोलन करना पड़ रहा है। इसके अलावा केजरीवाल ने मांग की है कि किसानो को न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को सुनिश्चित करने के लिए नया कानून लाया जाना चाहिए। केजरीवाल ने केंद्र से अपील की है कि यह बहुत ही गंभीर मुद्दा है जल्द से जल्द केंद्र सरकार को इस पर ध्यान देने की जरुरत है और इस आंदोलन को खत्म करने के बारे में सोचने की जरुरत है ताकि किसानो की हालत बेहतर हो सके और वे सक्षम बन सके। केजरीवाल ने सभी आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओ से अपील की है कि सोमवार को वे सभी किसानो के सपोर्ट में एक दिन का उपवास करे और एकजुटता का सन्देश दे।

आंदोलन करने वाले किसानो को देश विरोधी कहने वालो लोगो को भी केजरीवाल ने खरा जवाब दिया है। केजरीवाल ने कहा कि साल 2011 में भी अन्ना हजारे के नेतृत्व में भ्रष्टाचार के खिलाफ किये गए आंदोलन को रद्द कराने के लिए कांग्रेस सरकार ने भी यही काम किया था। ऐसे भाजपा सरकार के कई नेताओ भी किसानो को देश विरोधी कहते हुए देखा है और भाजपा भी आंदोलन को रद्द करने के लिए ऐसा ही कर रही है जो कांग्रेस ने किया था। इसके अलावा दिल्ली के लोग भी किसानो को अपना समर्थन दिखा रहे है। दिल्ली से कई लोगो किसानो के लिए खाना, दवाइया, कपडे और अन्य जरुरी चीज़े पहुंचाने का काम कर रहे है। उनका कहना है कि जो किसान पुरे देश को रोटी देता है आज उस इस हालत में हम उनकी मदद नहीं करेंगे तो कौन करेगा। हमे इनका हर परिस्थिति में साथ देना होगा जिससे उनको अपनी मेहनत का फल मिल सके।

%%footer%%