June 25, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

Movie Review: सपनो की दुनिया में खोना चाहते है तो इन्सेप्शन फिल्म आपको जरूर देखनी चाहिए

inception movie review in hindi, वृतांत - Vritaant

इंसान अक्सर अपने सपने पुरे करने की सोचता रहता है। हर इंसान अपने सपनो की दुनिया में जीना चाहता है। मगर कभी आपने सोचा है कि अगर किसी दूसरे अन्य इंसान के सपनो में जाकर उसके दिमाग में अपना विचार डाला जाये तो उससे हम जो चाहे वो करवा सकते है। इसी कॉन्सेप्ट को लेकर हॉलीवुड की फिल्म इन्सेप्शन बनाई गयी है। इस फिल्म को दुनिया के सबसे प्रसिद्द निर्देशक क्रिस्टोफर नोलन द्वारा बनाया गया है। इस फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे एक आदमी अपने परिवार से वापस मिलने के लिए अपनी जान को दाव पर लगा कर किसी अन्य व्यक्ति के सपनो में जाकर कैसे उसके दिमाग में अपने विचार डालता है।

इस फिल्म में मुख्य भूमिका में हॉलीवुड के जानेमाने अभिनेता लियोनार्डो डिकेप्रियो ने निभाई है। इन्ही के इर्द गिर्द इस फिल्म की कहानी घूमती है। फिल्म में दिखाया गया है कि लियोनार्डो पर अपनी पत्नी की हत्या का आरोप लगा है और इसके लिए वह पुलिस से बच के भाग रहा है। इसके कारण वह अपने बच्चो से भी नहीं मिल सकता है। लियोनार्डो के किरदार का नाम कोब है जिसके पास एक ऐसी मशीन है जिससे सपनो में जाकर अपने दिमाग की उपज से नयी दुनिया बना सकते है और अपनी पूरी जिंदगी अपने हिसाब से बिता सकते है। ऐसा ही कोब अपनी पत्नी के साथ करता है और वह उसी सपनो की दुनिया में अपनी पत्नी के साथ जिंदगी बिताने लगता है। इसी बीच वह एक गलती कर बैठता है। वह अपनी अपनों पत्नी के दिमाग में यह विचार डाल देता है कि यह सपनी की दुनिया ही असली दुनिया है। लेकिन जब वह वह असली दुनिया में वापस आती है तो उसे लगता है कि यह असली नहीं है और यह एक सपना है। इस सपने को तोड़ने के लिए वह बार बार आत्महत्या करने की कोशिश करती है।

साथ ही वह कोब को भी अपने साथ ले जाना चाहती है। असली दुनिया में वह अपने बच्चो को भी असली नहीं समझती है और वह चाहती है कि वह यह सपना तोड़ दे ताकि वह अपने बच्चो से मिल सके। जब उससे रहा नहीं जाता तो वह आत्महत्या कर लेती है और कोब पर अपनी पत्नी को मारने आरोप आ जाता है। इससे बचने के लिए और अपने बच्चो से वापस मिलने के लिए वह एक बहुत ही आमिर आदमी के साथ काम करता है। जो उसे यह आश्वासन देता है कि वह उसके सभी आरोपों को माफ़ करवा देगा और उसके बाद वह अपने बच्चो के साथ जिंदगी बिता सकता है। इसके लिए वह एक टीम बनाता है और एक बहुत ही बड़े बिजनेसमैन के सपनो में जाकर उसके दिमाग में नए विचार डालने का काम करता है। इस फिल्म में सपनो के चार लेवल दिखाए गए है जहाँ थोड़ी सी गलती होने पर जान का खतरा भी हो सकता है। अब वह इस काम में सफल हो पाता है या नहीं इसके लिए आपको यह फिल्म देखनी चाहिए । यह फिल्म 2009 में आयी थी और यह फिल्म अमेज़न प्राइम वीडियो पर हिंदी और अन्य भाषाओ में उपलब्ध है।

%%footer%%