June 25, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

आंदोलन के दौरान टेलीकॉम टॉवरों को हानि नहीं पहुंचाने के लिए पंजाब के मुख्य मंत्री द्वारा किसानो से की गयी अपील नाकाम हुई, और अन्य टॉवरों को हानि पहुचायी गई

punjab cm on damaging towers, वृतांत - Vritaant

केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानो ने जिओ के मोबाइल टॉवरों की बिजली बंद कर रहे है। पंजाब में कई जगहों पर टॉवरों को हानि पहुचायी गयी और टॉवरों को हानि पहुचायी गयी। इस बीच पंजाब के मुख्य मंत्री अमरिंदर सिंह ने टेलीकॉम टॉवरों को नुकसान नहीं पहुंचाने किसानो से अपील की। अमरिंदर सिंह ने किसानो से प्रार्थना की कि वे टेलीकॉम में बढ़ा उत्पन्न न करे और किसी भी टॉवरों को हानि नहीं पहुचाये। लेकिन किसानो से की गयी मुख्य मंत्री की यह अपील नाकाम हो गयी और वे टेलीकॉम टॉवरों पर होने वाले नए हमलो को रोकने में नाकाम रहे। क्योकि सूत्रों के मुताबिक 150 से अधिक टेलीकॉम टॉवरों को रातो रात बंद कर दिया गया और उन्हें हानि पहुचायी गयी।

भारत के अरबपति मुकेश अम्बानी और गौतम अडानी की फर्मो ने किसानो से खाद्यानो की खरीद नहीं की है, यह कहा जा रहा है कि नए कृषि कानूनों से उन्हें फायदा होगा जिससे किसानो ने उन्हें अपना निशाना बनाया है और उनके द्वारा दी जा रही सेवाओं को रोका जा रहा है। पंजाब में अलग अलग जगहों पर किसानो द्वारा विरोध प्रदर्शन करने और रिलायंस जिओ टॉवरों को हानि पहुंचाने के कारण कनेक्टिविटी बंद हो गयी है और लोगो तक मोबाइल सेवाएं नहीं पहुंच पा रही है। सूत्रों के अनुसार कल से 150 से अधिक टॉवरों को नुकसान पहुंचाया गया है। अब तक बंद किये गए और हानि पहुचाये गए टेलीकॉम टॉवरों की कुल संख्या लगभग 1300 हो गयी है। सूत्रों के अनुसार पंजाब के विभिन्न हिस्सों से टॉवरों पर कुल्हाड़ी चलाने की कोशिश करने से बिजली की लाइन टूट गयी है और टॉवर ठप्प हो चुके है।

ठीक करने गए साइट प्रबंधको को मारा गया और प्रदर्शनकारियों द्वारा सुधार कर्मियों को टॉवरों को ठीक नहीं करने दिया गया। बंद किये गए और हानि पहुचाये गए टॉवरों में सभी टॉवर जिओ के है। इससे जिओ की दूर संचार सेवाएं प्रभावित हुई है और ऑपरेटर कानून परवर्तन एजेंसियों द्वारा कार्यवाही के आभाव में सेवाओं को बनाये रखने के लिए संघर्ष कर रहे है। पंजाब के मुख्य मंत्री ने शुक्रवार को किसानो से अपील की थी कि वे इस तरह की कार्यवाही से आम जनता को असुविधा न होने दे और पिछले कुछ महीनो में दिखाए गए अपने संयम को जारी रखे।

%%footer%%