January 17, 2022

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

राजस्थान में कक्षा 9 से 12 तक के लिए 1 जनवरी से खुल सकते है स्कूल

Madhya Pradesh, June 09 (ANI): Student wearing a face mask as a preventive against coronavirus wait for the thermal scanner to check the temperature at the Madhya Pradesh board 12th examination at a School in Jabalpur on Tuesday. (ANI Photo)

राजस्थान में स्कूलों का मुद्दा भी विवादों में रहा है क्योकि हाल ही में स्कूलों की फीस को लेकर स्कूल और अभिभावक आमने सामने हो गए। हाई कोर्ट का इस मामले को पहुंचने के बाद हाई कोर्ट ने स्कूलों से केवल 70% तक फीस लेने को कहा जिसका स्कूलों को अभिभावकों दोनों ने विरोध किया। स्कूल चाहते है कि अभिभावक स्कूल की पूरी फीस अदा करे, जबकि अभिभावकों का कहना है कि कोरोना महामारी के कारण बच्चो की पढाई ठीक से नहीं हो पायी है जिससे स्कूलों को केवल 30 से 40 प्रतिशत ही फीस लेनी चाहिए। अब दोनों पक्षों में हाई कोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने का फैसला किया है। हालाँकि सरकार ने प्रदेश में कोरोना महामारी के बढ़ते हुए संस्करण के बीच स्कूलों को बंद करने का फैसला किया था। हाल ही में सभी कक्षाओं के लिए शीतकालीन अवकाश घोषित किया गया है और अब सरकार कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों के लिए 1 जनवरी से स्कूलों को खोलने का फैसला कर सकती है।

राजस्थान में करीब 10 महीने से बंद स्कूलों के कारण शिक्षा पर बहुत प्रभाव पड़ा है। शिक्षा विभाग ने अब राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा है और इस प्रस्ताव के द्वारा राज्य सरकार से कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों के लिए स्कूलों को 1 जनवरी या 4 जनवरी से खोलने के लिए अनुमति मांगी गयी है। शिक्षा विभाग का कहना है कि इन कक्षाओं को 15 दिन तक ट्रायल के आधार पर स्कूलों में बुलाना चाहिए और इसके बाद अन्य कक्षाओं पर भी विचार किया जा सकता है। इससे पहले भी राज्य सरकार कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों के लिए स्कूलों को खोलने का निर्णय ले चुकी है लेकिन कोरोना महामारी के बढ़ जाने से सभी के लिए स्कूलों को फिर से बंद कर दिया गया।

फ़िलहाल राज्य में सभी कक्षाओं को ऑनलाइन पढ़ाया जा रहा है। राज्य के सभी स्कूल ऑनलाइन कक्षाएं लगवा रहे है। लेकिन अब स्कूल चाहते है कि बड़ी कक्षाओं के लिए स्कूलों को खोल दिया जाये जिससे बोर्ड कक्षाओं की पढाई प्रभावित न हो। फ़िलहाल राज्य सरकार की तरफ से इस प्रस्ताव पर फैसला आना बाकि है जिसके बाद ही स्कूलों को खोलने की राह का पता चल सकेगा। फ़िलहाल प्रदेश में अब कोरोना वायरस पर नियंत्रण पाना शुरू हो गया है और अब संक्रमण की संख्या घटती जा रही है। इस स्थिति को देखते हुए सरकार स्कूलों को 1 जनवरी से खोलने का निर्णय ले सकती है।

%d bloggers like this: