January 17, 2022

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

समय में पीछे जाकर चीज़ो को बदल देने पर क्या हमारे वर्तमान और भविष्य पर प्रभाव पड़ेगा ?

हमने कई फिल्मो में देखा है कि फिल्म में हमे एक टाइम मशीन देखने को मिलती है और इंसान इस मशीन का उपयोग करके समय में पीछे या आगे जा सकते है। कई बार ऐसी फिल्मो में दिखाया जाता है कि भविष्य में दुनिया अतीत में हुए कुछ कार्यो के कारण खत्म होने वाली होती है और इस को बदलने के लिए भविष्य से कुछ लोगो को टाइम मशीन के द्वारा अतीत में भेजा जाता है और वे अतीत में उस कार्यो को बदल कर अपने वर्तमान और भविष्य को बदल देते है। क्या ऐसा होना सच में संभव है ? इसको जानने के लिए हमे समय के कुछ जटिल सिद्धांतो को समझना होगा।

हाल कुछ वर्षो में आयी फिल्मो में दिखाया गया है कि समय में पीछे जाने पर एक कभी न खत्म होने वाला चक्र बन जाता है जिससे वह इंसान हमेशा समय के चक्र में ही फास जाता है। इस कभी न खत्म होने वाले समय के चक्र को बूटस्ट्रैप पैराडॉक्स कहा जाता है। इसका मतलब यह है  कि समय में जो घटनाये हुई है उनका कोई शुरुवाती बिंदी नहीं होता। इसको एक उदाहरण से समझ सकते है। जैसे कि हम ये नहीं बता सकते कि पहले मुर्गी आयी या अंडा उसी तरह टाइम बूटस्ट्रैप पैराडॉक्स में भी हम किसी भी घटना के शुरू होने को नहीं बता सकता है। इसको एक अन्य उदाहरण से समझे तो आप को कोई टाइम मशीन मिल जाती है और आप चाहते है कि आप समय में पीछे जाकर अल्बर्ट आइंस्टाइन से मिले। फिर आप उनके बचपन के समय में पहुंच जाते है और आपको अल्बर्ट आइंस्टाइन नहीं मिलते है क्योकि उस समय वे प्रसिद्द नहीं हुए थे। उसके बाद आप उनके नाम से उसी समय में उनके द्वारा दिए सिद्धांतो को प्रकाशित कर देते है जो आपने भविष्य में पढ़े है। उसके बाद आप वापस उन्हें भविष्य में पढ़ते है और आप ही अल्बर्ट आइंस्टाइन होते हो और आप ने ही उन्हें प्रकाशित किये है। इस तरह यह एक चक्र बन जाता है और बार बार यही समय का चक्र चलता रहता है। यानि हम समय में पीछे जाकर चीजों को बदलने की कोशिश करे तो भी हम बदल नहीं सकते है।

इसके अलावा अन्य समय की यात्रा के सिद्धांत के बारे में बात करे तो पिछले साल आयी फिल्म अवेंजर्स-एन्ड गेम में दिखाया गया था कि टाइम मची के द्वारा समय में पीछे जाकर चीज़ो को बदल देने पर वर्तमान में चल रहे समय पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है और समय में पीछे जाकर बदली गयी चीज़ो के लिए अलग समय की रेखा बन जाती है। यानि समय अलग अलग रेखा में बंट जाता है जिससे हम हमारे भविष्य को नहीं बदल सकते है। समय यात्रा एक बहुत ही रुचिकारक विषय है जिसके बारे में हमे और जानने की इच्छा होती है लेकिन हम जितना अधिक इसके सिद्धांतो को समझने की कोशिश करते है उतना है हम इसमें उलझते जाते है।

%d bloggers like this: