June 18, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

वार्नर ब्रोस स्टूडियो द्वारा लिया गया फैसला सबकुछ बदल कर रख देगा, सिनेमा घरो का भविष्य है खतरे में

warner bros to release all film online, वृतांत - Vritaant

हाल ही में हॉलीवुड के बहुत बड़े स्टूडियो वार्नर ब्रोस ने के चौका देने वाला फैसला किया था कि वे उनकी 2021 में आने वाली सभी फिल्मो को सिनेमा घरो के साथ ओटीटी प्लेटफार्म एचबीओ मैक्स पर भी उसी दिन रिलीज़ करेंगे। दर्शको को यह फैसला बहुत ही अच्छा लग सकता है लेकिन सिनेमा घरो के मालिक और फिल्म बनाने वाले निर्देशकों के लिए यह बहुत ही बुरा फैसला है। वैसे तो वार्नर ब्रोस की 2021 और 2020 के अंत तक आने वाली फिल्मो को सिनेमा घरो में ही देखने की इच्छा रखते है लेकिन जब लोगो घर बैठे उसी दिन फिल्म देखने को मिल जाएगी तो कोई सिनेमा घर क्यों जायेगा ?

इस फैसले से सिनेमा के मालिकों को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है और शायद सिनेमा घरो के बंद होने की नोबल भी आ सकती है। क्योकि जब दर्शको फिल्म घर बैठे देखने को मिल रही है तो वे सिनेमा घरो में अधिक पैसे खर्च करने फिल्म देखने का जोखिम नहीं लेंगे। इसके अलावा कुश दर्शक ऐसे भी होंगे जो ओटीटी पर भी पैसे खर्च नहीं करेंगे और फिल्मो को पूरी तरह से मुफ्त देख सकते है क्योकि ओटीटी पर फिल्म रिलीज़ होने के बाद फिल्म की ओरिजिनल पायरेटेड कॉपी भी इंटरनेट पर आसानी से उपलब्ध हो जाती है जिसके बाद फिल्म को सिनेमा और ओटीटी दोनों जगहों पर नुकसान उठाना पड़ेगा। वार्नर ब्रोस ने अपनी आने वाली बड़ी बड़ी फिल्मो को सिनेमा घरो के साथ ऑनलाइन भी रिलीज़ करने का फैसला किया है। इन फिल्मो में ओनर वुमन 1984, ड्यून, मैट्रिक्स 4 आदि बड़ी फिल्मो के नाम शामिल है। ये सभी फिल्मे सिनेमा घरो में रिलीज़ होने पर बॉक्स ऑफिस पर रिकॉर्ड बना सकती  है लेकिन अब इन सभी फिल्मो को भरी बुकसान उठाना पड़ सकता है।

वंडर वुमन फिल्म को आईमैक्स 3D के साथ सिनेमा घरो में रिलीज़ किया जायेगा और इस फिल्म का इंतजार पुरे विश्व भर के दर्शक कर रहे है। यह फिल्म पुरे साल बंद पड़े सिनेमा घरो के लिए बॉक्स ऑफिस पर कमाल दिखा सकती थी लेकिन अब वार्नर ब्रोस के फैसले के बाद सिनेमा घरो को इस फिल्म से अब कोई उम्मीद नहीं रह गयी है। वार्नर ब्रोस का यह फैसला उन बड़े अभिनेताओं और निर्देशकों के लिए बुरा साबित होगा होगा जो फिल्म के प्रॉफिट में से कुछ हिस्सा अपनी फीस के रूप में लेते है लेकिन अब इस फैसले के बाद फिल्मो का प्रॉफिट अब आधा भी नहीं रह पायेगा और इसके कारण फिल्म से जुड़े हुए लोगो को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। कई बड़े निर्देशकों जैसे क्रिस्टोफर नोलन ने इस फैसला को सही नहीं बताया है और वार्नर ब्रोस के इस फैसले की कड़ी आलोचना की है। भारत में इस फैसले का असर सिनेमा घरो पर पड़ेगा क्योकि सरकार द्वारा केवल 50% दर्शको को सिनेमा घरो में फिल्म देखने की इजाजत दी गयी है। इस फैसले के बाद अब इन दर्शको की संख्या में भी बड़ी कमी आ सकती है।