August 5, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

2021 का मिथुन राशि (GEMINI) का वार्षिक राशिफल – जानिए कैसा होगा आने ये साल आपके लिए

Mangal Grih dosh nivaran / Mars planate

मिथुन राशि (GEMINI)

स्वभाव
मिथुन राशि पर बुध देव का स्वामित्व हैकल पुरुष की कुंडली में इसको तृतीय भाव का आधिपत्य प्राप्त है। यह वायु तत्व, द्विस्वभाव राशि है, इसके जातको का स्वभाव दोहरा किस्म का होता है। यह तुरंत निर्णय नहीं ले पाने में असमर्थ होते है,अगर निर्णय ले भी लेते हैं तो उस पर टिक नहीं पाते। यह शीघ्र अति शीघ्र परिवर्तन करने को तैयार हो जाते हैं। ऐसे लोगों को नए-नए स्थानों पर यात्रा करने के शौक़ीन होते है। मिथुन राशि वाले दूसरों की बातों में भी आकर अपने विचारों को बदल भी लेते हैं। इन्हें पढ़ने लिखने का बहुत शौक होता है। इनकी बोलने की और लिखने की क्षमता अद्भुद होती है। इस वर्ष शनि और गुरु ग्रह इनकी चंद्र राशि से अष्टम भाव में गोचर कर रहे हैं और राहु द्वादश भाव में, जिससे इस वर्ष अपने खर्चे का अधिक ध्यान रखना होगा। इस वर्ष बेवजह की चिंताओं से ग्रसित रहेंगे।

पारिवारिक जीवन

इस वर्ष मिथुन राशि वालों के पारिवारिक जीवन में अनुशासन भरा माहौल बना रहेगा और परिवार में खर्चे की वज़ह से तनाव भी रहेगा। इस वर्ष आप अपने परिवार के साथ घूमने की योजना बनाएंगे और सब मिलकर साथ मनोरंजन करेंगे, जिससे शिकवे शिकायत दूर हो खुशिओ का माहौल बनेगा । वर्ष के मध्य में परिवार के किसी सदस्य को कोई नई और बड़ी सफलता मिलेगी, जिससे घर में पार्टी का आयोजन भी होगा। संतान पक्ष से लाभ के संकेत इस वर्ष हैं l

आर्थिक स्थिति, व्यवसाय

इस वर्ष के शुरुआत मे कोई अतिरिक्त आय या ब्याज के काम से आमदनी हो सकती है। आपको किसी को धन देने का कोई वादा नहीं करना हैं और अहंकार से बचना होगा ल धन को लेकर दिखावे के चक्कर में पैसा खर्च न करें। मार्च मध्य के बाद आर्थिक स्थिति पहले से बेहतर हो जाएगी। अगर आप कोई भी बड़ा निवेश करना चाहते हैं तो मई से पहले या अक्तूबर के पश्चात ही कोशिश करें,अन्यथा हानि हो सकती है। मिथुन राशि के लिए घर या वाहन लेने का सपना इस वर्ष पूरा होगा और अगर आपको लोन की भी आवशयकता हैं तो वह भी आसानी से मिल जाएगा। इस वर्ष अपने घर की साज-सजावट पर भी आपका धन खर्च हो सकता है। अगर आप संगीत या मीडिया से जुड़ा कोई काम कर रहे है तो इस वर्ष में अच्छी आय हो सकती है। आपको पिता से भी आर्थिक मदद मिलेगी और पुराने निवेश से आर्थिक स्थिति भी बेहतर हो जाएगी। कुल मिलकर आपकी आर्थिक स्थिति बेहतर होगी।

इस वर्ष शनि देव पूर्ण दृष्टि से आपके कर्म भाव को देखेंगे जिसका प्रभाव आपके व्यवसाय भाव में बना रहेगा, जिससे कार्य व व्यापार को लेकर म्हणत अधिक करनी होगी, क्योंकि यह शनि इस साल अनुशासन और मेहनत अधिक मांग रहे हैं, तभी सभी कार्य सुचारु रूप से चलते रहेगें । इस वर्ष बहुत सावधानी रखें । क्योंकि इस समय में आपको नये प्रोजेक्ट में काम मिलते-मिलते रह जाएगा या किसी वजह से रुकावट आ जाएगी। जून जुलाई में कोई बंद किया हुआ व्यापार फिर से शुरू हो सकता है या कोई छोड़ी हुई नौकरी दोबारा मिल सकती है। नौकरी करने वालों के लिए वर्ष की शुरुआत तो बेहतर रहेगी, लेकिन साल के मध्य मे नई नौकरी की कोशिश न करें और जहां हैं वहीं मन लगाकर कार्य करें। सितम्बर के बाद से आपका मनचाही जगह तबादला हो सकता है, आपको किसी विदेशी कम्पनी मे भी कार्य का ऑफर आ सकता है और यह समय प्रमोशन और वेतन में वृद्धि के लिए उत्तम रहेगा ।

प्रेम संबंध और वैवाहिक जीवन, स्वास्थ्य

साल की शुरुआत आपके और प्रेमी दोनों के लिए बहुत ही रोमांस भरा रहेगा। आप दोनों एक-दूसरे के साथ मधुर समय भी बिताएंगे और आपसी करीबी से रिश्ते में गहनता आएगी।आप अपने व्यवहार के अनुसार अपने साथी को बहुत ही खुश रखते है, जिससे छोटी-छोटी बातें आप दोनों के बीच बहस का कारन नहीं बनती। साल के मध्य मे आप अपने साथी के साथ कहीं दूर समय बिताने जा सकते है, वहां आप अपने साथी को कीमती तोहफा देने का विचार कर सकते हैं। साल के अंत मे रिश्ते में कुछ अनबन हो तो समय रहते सम्भाल ले। आपका वैवाहिक जीवन साल के शुरुआत मे तो बहुत प्रेम भरा रहेगा, लेकिन वर्ष मध्य में आपसी अनबन से रिश्तों मे खटास आ जाएगी और वाद-विवाद की वज़ह से एक दूसरे से दूरी बन सकती है।

सितम्बर के बाद सब सही हो जाएगा और आपसी प्रेम दोबारा होने से रिश्ते मे मिठास वापस लौट आएगी। यह वर्ष आपकी राशि के स्वास्थ्य के लिए शुरुआत में तो बहुत बेहतर रहेगा और उसके पश्चात जून माह में पेट से जुड़ी कोई समस्या परेशान कर सकती हैं जिसकी वज़ह से तनाव की स्थिति भी खड़ी हो सकती हैं। इसलिए समय रहते आप अपना इलाज करवा ले नहीं तो आपकी लापरवाही आपके लिए ही नुकसान का कारण बन सकती हैं। अगर आपको पहले से ही कोई लम्बी बीमारी हैं तो आप लापरवाही न करें। वर्ष के मध्य वाहन की वज़ह से दुर्घटना हो सकती हैं इसलिए बहुत ही सावधानी से वाहन चलाये। वर्ष के अंत मे अधिक यात्राओं पर नियंत्रण रखें।

आपके लिए सरल उपाय

  • ॐ गं गणपतये नमः का जप करें।
  • गणेश जी को दूर्वा अर्पित करें।
  • शनि देव को सरसो का तेल अर्पित करें।

ज्योतिषी अनु गर्ग
गाज़ियाबाद, उत्तरप्रदेश

%d bloggers like this: