January 20, 2022

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

2021 का वृषभ राशि (TAURUS) का वार्षिक राशिफल – जानिए कैसा होगा आने ये साल आपके लिए

Vrishabh rashi ka rashifal hindi mein

वृषभ राशि [TAURUS]:-

आपकी राशि के स्वामी शुक्र देव हैं। वृषभ राशि में चन्द्र देव उच्च के होते हैं और कालपुरुष की द्वितीय राशि होने के करें इस राशि को वाणी और कुटुंब का कारक माना जाता हैं। ऐसे जातकों का रंग गोरा या गेहुंआ होता हैं। इनका स्वभाव सौम्य होता हैं। ये लोग वैसे तो किसी की अधिक परवाह नहीं करते हैं। ये लोग वैभव व विलासिता भरा जीवन जीना पसंद करते हैं। इन लोगों को खुशबु और भौतिक सुख से बहुत प्रेम होता हैं।दिखावा इनको बहुत भाता है। यह बहुत ही भावुक होते हैं और सभी को बहुत जल्दी अपना भी समझ लेते हैं। कभी कभी नकारात्मक विचार इनकी उन्नति में बाधक होती हैं।
वृषभ राशि पर 2021 में वर्ष भर राहु का गोचर बना रहेगा, जिससे इस राशि वाले इस वर्ष कुछ भ्रम सा महसूस करेंगे।

पारिवारिक जीवन

वृषभ राशि वालों का पारिवारिक जीवन इस वर्ष ठीक ठाक रहेगा। धर्म मे रुचि बढ़ेगी धार्मिक यात्रा पर जा सकते हैं परिवार में एक धार्मिक मांगलिक कार्यक्रम का आयोजन होगा जिसमें सभी लोग एक साथ मिल कर उत्सव जैसा माहौल बनाएंगे। मई के बाद घर भौतिक साधनों पर अधिक धन का अधिक खर्च होगा जिससें मतभेद की स्थिति बन सकती हैं। वर्ष के अंत में मानसिक तनाव बन सकता हैं। अपने परिवार में किसी अन्य के आने से मतभेद होने से बचे।

आर्थिक स्थिति, व्यवसाय

इस वर्ष वृषभ राशि वालों की आर्थिक स्थिति कुछ तंग रहेगी, जिस वजह से काम तो कुछ नहीं रुकेगा और शनि ग्रह का भाग्य भाव में प्रभाव होने से कार्यों में देरी बनी रहेगी। अप्रैल के बाद भाग्योदय के योग बन रहे हैं। इस समय में धन का सही इस्तेमाल करें। इस वर्ष के मध्य में अगर वाहन अधिक खराब होने पर बार-बार धन व्यय करने की नौबत आए तो प्रयास करें नया वाहन लें । अगस्त के बाद भूमि संपत्ति में निवेश करने के लिए समय बहुत उत्तम रहेगा और आने वाले समय में आपको लाभ ही होगा। शेयर बाजार से दूरी ही रखें बेहतर रहेगा।

इस वर्ष आपको कड़ी मेहनत के बाद ही सफलता मिलेगी क्योंकि आप जिस तरह से मेहनत और लगन से काम करते हैं, उस तरह से इस वर्ष किस्मत साथ नहीं दे पाएगी लेकिन आपकी मेहनत मेंकोई कमी नहीं होगी आप पूर्ण ऊर्जा महसूस करेंगे। देरी से ही सही पर मनचाही दिशा अवश्य मिलेगी।यह वर्ष व्यवसाय को लेकर कोई बड़ा निर्णय लेने के लिए उत्तम नहीं हैं। नौकरी करने वालों के लिए साल के मध्य का समय नये कार्य और नौकरी के लिए बेहतर नहीं हैं। इस वर्ष आपको अपने कर्मचारियों के साथ सौम्य व्यवहार रखना होगा, तभी आप अनचाही परेशानी से बच सकते हैं। यह वर्ष मार्केटिंग व फाइनेंस के क्षेत्र के लिए बेहतर रहेगा। वर्ष का अंत आने पर ही सीनियर और बॉस का स्नेह मिलेगा, जिससे उनको आपकी मेहनत का फल भी नज़र आएगा और वेतन के बढोतरी के लिए यह समय भी उत्तम रहेगा।

प्रेम संबंध और वैवाहिक जीवन, स्वास्थ्य

इस वर्ष कार्य की अधिकता से आप व्यस्त रहेंगे। जिस वजह से आपके और आपके प्रेमी से कम बातचीत कर पाने के कारण यहीं स्थिति तनाव का रूप लेने लगेगी। यह आपसी दूरी का भी कारण बनेगा। अगर रिश्ते मे सौम्यता रखना चाहते हो तो ध्यान दें । अगर आप अकेले हैं तो साल के मध्य मे आपको कोई पसंद आ सकता है। इस वर्ष केतु का सप्तम भाव में गोचर बना रहेगा और वैवाहिक लोगों के लिए ये वर्ष कुछ गलत-फहमी भरा रहेगा तभी किसी भी तरह के अलगाव की स्थिति में धैर्य और समझदारी से काम लें तभी आपसी रिश्तें मे प्रेम बना रहेगा।

इस वर्ष किसी नये मेहमान के घर आने की खुशी भी मिलेगी। साल अंत मे जीवनसाथी के साथ घूमने के लिए जा सकते हैं।आपका आने वाला वर्ष आप के लिए सेहत के हिसाब से बेहतर जाने वाला हैं लेकिन आप अपने ऊपर किसी तरह का मानसिक तनाव अधिक बढ़ने नहीं दें, क्योंकि यहीं मानसिक तनाव आपके लिए परेशानी का कारण बनेगा और आप अपने काम में मन नहीं लगा पाएंगे। मध्य के 4 महीने के दौरान अचानक पेट को लेकर किसी तरह की समस्या आ सकती हैं, बहुत ही सावधानी से चले और अपने खान-पान का ध्यान रखें।

आपके लिए सरल उपाय

  • माता लक्ष्मी की आराधना इस वर्ष आपको लाभ देगी।
  • शुक्रवार को लाल गुलाब देवी माँ को समर्पित करें।
  • राहु देव के हेतु उरद दाल का दान करें।

ज्योतिषी अनु गर्ग
गाज़ियाबाद, उत्तरप्रदेश

%d bloggers like this: