June 18, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

राजस्थान और गुजरात में बर्ड फ्लू की पुष्टि, नए मामले सामने आये

bird flu in rajasthan and gujrat, वृतांत - Vritaant

राजस्थान और गुजरात में प्रत्येक जिले में बर्ड फ्लू के ताजा मामलो की पुष्टि हो गयी है। सरकार ने रविवार को इस बीमारी को रोकने के लिए उचित कदम उठाने के लिए कहा है। इस मामले में सरकार द्वारा एक रिपोर्ट जारी की गयी है। हरियाणा के पंचकुला में दो पोल्ट्री फार्म में एवियन इंलुएंजा के पॉजिटिव नमूनों की पुष्टि के बाद राज्य ने ९ रेपिड रिस्पांस टीम को तैनात किया है गुजरात के सूरत जिले और राजस्थान के सिरोही जिले में भी कौवो और जंगली पक्षियों में भी बर्ड फ्लू की पुष्टि की गयी है। इसके अलावा हिमाचल के कांगड़ जिले से भी 86 कौवो की असामान्य मृत्यु की रिपोर्ट मिली है।

इसके अलावा हिमाचल के ही मंडी, नाहन और बिलासपुर में भी जंगली पक्षियों की असामान्य मृत्यु की रिपोर्ट मिली है और फ़िलहाल सभी नमूनों को परीक्षण के लिए प्रयोगशाला में भेजा गया है। इन नमूनों में भी बर्ड फ्लू की जाँच की जाएगी। मंत्रालय ने प्रभावित राज्यों को सलाह दी है कि ताकि बीमारी को और अधिक फैलने से रोका जा सके। अब तक सात राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि की जा चुकी है। इन सात राज्यों में केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल, हरियाणा, गुजरात और उत्तर प्रदेश शामिल है। दिल्ली और महाराष्ट्र से भेजे गए नमूनों की रिपोर्ट आना अभी बाकि है। सरकार ने कहा है कि इसके अलावा छत्तीसगढ़ के जंगली पक्षियों में अभी बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। बर्ड फ्लू को देखते हुए केंद्र सरकार ने भी दल गठित किये है। केंद्र द्वारा गठित किये गए दल प्रभावित राज्यों और जगहों पर दौरा कर रहे है।

केंद्र द्वारा गठित टीम अलग अलग राज्यों में जाकर इस मामले का अध्ययन कर रही है। इसके अलावा केंद्र ने इस महामारी पर लगातार निगराँनी रखने के लिए भी कहा है। केंद्रीय सरकार ने राज्यों से जनता के बीच जबरक्त पैदा करने और बीमारी की गलत सूचनाओं का प्रसार नहीं करने का अनुरोध किया है। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो से अनुरोध किया है कि वे जल निकायों, बर्ड मार्किट, चिड़ियाघर, पोल्ट्री फार्म आदि के आसपास निगरानी को तेज करे। मृत पक्षियों के शवों का तुरंत निपटान करे और जीव सुरक्षा को मजबूत करे। पुरे देश में बर्ड फ्लू नया चिंता का विषय बन गया है। धीरे धीरे यह महामारी देश के कई राज्यों में तेजी से फैलती जा रही है। सरकार को इस बीमारी के इंसानो में फैलने की चिंता है और इसके लिए सरकार पहले से उचित कदम उठा रही है।