June 17, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

भारत में इलेक्ट्रिक कारे लाएगी कई बड़े बदलाव, जानिए टेस्ला जैसी इलेक्ट्रिक कारो के आने से क्या फायदे होंगे

how did tesla cars change the world in hindi, वृतांत - Vritaant

हाल ही में टेस्ला ने भारत में भी अपना कारोबार शुरू करने की घोषणा की है। टेस्ला के सीईओ एलोन मस्क अमेज़न के संस्थापक जेफ्फ बेजोस को पीछे छोड़ दुनिया के सबसे आमिर व्यक्ति बन गए है। मात्र एक साल में ही एलोन मस्क की संपत्ति 28 बिलियन डॉलर से 200 बिलियन डॉलर हो गयी है जिससे वे दुनिया में शीर्ष पर पहुंच गए है। इसका सबसे बड़ा श्रेय जाता है उनकी इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला को। टेस्ला के शेयर्स में लगातार असामान्य बढ़ोतरी के कारण टेस्ला दुनिया की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी बन गयी है। भारत सरकार ने भी टेस्ला को इस साल भारत में अपनी इलेक्ट्रिक कारो को लाने के लिए अनुमति दे दी है। भारत में फ़िलहाल टेस्ला द्वारा मॉडल ३ को लॉन्च किया जायेगा उसके बाद कंपनी अन्य मॉडल्स को भी भारत में लॉन्च करेगी।

टेस्ला जैसी इलेक्ट्रिक कारो के भारत में आने के बाद कई बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे। भारत सबसे ज्यादा खर्चा दूसरे देशो से पेट्रोलियम को खरीदने के लिए करता है जिससे हमारी मुद्रा का बड़ा हिस्सा दूसरे देशो में चला जाता है। इसके अलावा हम पेट्रोलियम जैसे कारको के लिए दूसरे देशो पर निर्भर है और हमारी सरकार इनसे व्यापार संबंध अच्छे रखने की कोशिश करती है ताकि कभी भी पेट्रोलियम का आयात कम न हो। इसके कारण ही हमारे देश में पेट्रोल और डीजल का दाम बहुत ज्यादा है। भारत में इलेक्ट्रिक कारे इस निर्भरता को खत्म कर देगी। क्योकि इलेक्ट्रिक कारे बैटरी द्वारा संचालित होगी और उन्हें पेट्रोलियम जैसे ईंधन की आवश्यकता नहीं होगी। उन्हें केवल बिजली द्वारा पुनः चार्ज किया जा सकेगा।

भारत में जब इलेक्ट्रिक कारो की संख्या बढ़ जाएगी तो हमे दूसरे देशो से पेट्रोलियम का आयत कम  करना पड़ेगा और इससे पेट्रोल और डीजल के दाम भी कम हो जायेंगे। इसके अलावा हमारा देश बिजली के उत्पादन में सक्षम है और इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने के लिए हमे किसी पर भी निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। इलेक्ट्रिक कारो के कारण पर्यावरण प्रदूषण बहुत ही कम हो जायेगा। क्योकि इलेक्ट्रिक कारो से न तो कोई धुआँ निकलता है और न ही ये तेज आवाज़ करती है। जिससे इसके कारण पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं होगा। हालाँकि इलेक्ट्रिक कारो की कीमत अन्य कारो से ज्यादा होगी लेकिन एक बार खरीदने के बाद इनका रख रखाव का खर्च बिलकुल कम होगा क्योकि इन कारो में कोई इंजन नहीं होगा जिससे इन्हे बार बार ठीक कराना पड़े। ये सिर्फ बैटरी और इलेक्ट्रिक मोटर पर भी चल सकती है। इसके अलावा ईंधन से चलने वाली कारो में जब बार बार ब्रेक लगाया जाता है तो ईंधन अधिक ख़र्च होता है लेकिन इलेक्ट्रिक कारो में ऐसी तकनीक काम में ली गयी है जिससे जब बार बार ब्रेक लगाया जाता है तो यह बिजली पैदा करती है और कार की बैटरी चार्ज होती रहती है। यानि इलेक्ट्रिक कारे भारत में एक नया बदलाव लाएंगी जिससे परिवहन की एक नयी तस्वीर देखने को मिलेगी।