June 25, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

राजस्थान : आज से राज्य में 10 महीने से बंद पड़े स्कूल और कॉलेज खुले, कोचिंग संस्थानों को भी खोलने की अनुमति मिली

schools-college open in rajasthan, वृतांत - Vritaant

साल 2020 में कोरोना महामारी के कारण राज्य में बंद पड़े स्कूल और कॉलेज आज 18 जनवरी से खोल दिए गए है। स्कूलों में फ़िलहाल के लिए कक्षा 9 से 12 तक के बच्चो को ही बुलाया जा रहा है, जबकि कॉलेज में केवल फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स को बुलाया जा रहा है। इसके अलावा राज्य सरकार ने 33% बच्चो के साथ कोचिंग संस्थानों को भी खोलने की अनुमति दे दी है। कई महीने से वीरान पड़े स्कूलों में बच्चो के आ जाने से रौनक लौट आयी है और बच्चो में भी स्कूल जाने के लिए उत्साह नजर आया है। फिलाहल स्कूलों में केवल एक दिन 50% बच्चो को ही स्कूल बुलाने की अनुमति दी गयी है।

इसके अलावा स्कूलों में सरकार द्वारा बनाये नियमो का सख्ती से पालन किया जायेगा। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाना और सेनिटाइज़र का उपयोग करना आदि बातो का सख्ती से पालन किया जायेगा। इसके अलावा राज्य सरकार ने अब कक्षा 8 तक भी स्कूलों को खोलने की तैयारी कर ली है। शिक्षा विभाग के अनुसार अगर सब कुछ ठीक रहा तो फरवरी के माह में कक्षा 6 से 8 तक के बच्चो के लिए भी स्कूल खोल दिए जायेंगे। फिलाहल के लिए कक्षा 9 से 12 तक खोले गए स्कूलों में शिक्षकों को बच्चो का पूरा ध्यान रखना होगा और उन्हें एक दूसरे से दूर-दूर रहने के लिए समझाना होगा। इसके अलावा केवल वे हेलो-हाय ही कहते दिखेंगे। बाकि कक्षाओं की ऑनलाइन पढ़ाई को जारी रखा जायेगा।

इसके अलावा कॉलेज संस्थानों में केवल फाइनल ईयर की कक्षाएं लगेगी और कोचिंग संस्थानों में सीमित क्षमता के साथ कक्षाएं शुरू की गयी है। इसके अलावा जो अभिभावक अपने बच्चो को अभी स्कूल नहीं भेजना चाहते है उन विद्यार्थियों की ऑनलाइन कक्षाएं लगायी जाएगी। राज्य सरकार ने स्कूलों को निर्देश दिए है कि वे किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरते और सरकार द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों का सख्ती के साथ पालन करे। स्कूल परिसर में सेनिटाइज़र का छिड़काव कराये और बच्चो को भी सेनिटाइज़र का उपयोग सख्ती से कराये। इसके अलावा शिक्षकों को भी उचित दिशा निर्देशों के साथ बच्चो को पढ़ाना होगा। सरकार द्वारा कुछ दिनों के लिए स्कूलों की स्थिति को परखने के बाद ही अन्य कक्षाओं के लिए स्कूल खोलने के बारे में विचार किया जायेगा।

%%footer%%