August 3, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

जयपुर की सड़को पर बेकाबू होक दौड़ी कार, कई थानों की पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद चालक को पकड़ा

देर रात्रि को जयपुर की सड़को पर फिल्मो जैसा नजारा देखने को मिला क्योकि जयपुर की सड़को पर एक कार चालक ने ऐसे अपनी कार को बेकाबू तरीके से सड़को पर दौड़ाया। जब पुलिस द्वारा चालक को रोकने की कोशिश की गयी तो चालक ने कार की रफ़्तार और तेज कर दी और पुलिस की नाकाबंदी को तोड़ते हुए बचने की कोशिश की। चालक ने पुलिस के बचने के प्रयास में 6 जगहों पर नाकाबंदी को तोड़ दिया और इसके कारण कार का एक टायर भी फट गया। लेकिन इसके बाद भी चालक ने कार की रफ़्तार को कम नहीं किया और तीन टायरों पर ही कार को भगाता रहा। चालक ने जयपुर पुलिस को इस कदर चकमा दिया कि 100 से ज्यादा पुलिस कर्मी भी चालक को पकड़ नहीं पाए।

चालक को पकड़ने के लिए 13 थानों की पुलिस को लगाना पड़ा लेकिन तेज रफ़्तार से जयपुर की सड़को पर कार को दौड़ा रहे चालक ने करीब एक घंटे तक पुलिस की नाक में दम किया और इतने समय तक जयपुर पुलिस को खूब चकमे दिए। आखिरकार एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने चालक को पकड़ लिया जब चालक को एक जगह रोड पर बॉक मिला। कार में चालक के साथ उसके दोस्त भी सवार थे जो कि फरार हो गए। चालक ने टायर फट जाने के बाद भी तीन टायरों पर कार को तेज रफ़्तार पर दौड़ाया जिससे कार की रिम पूरी तरह से घिस गयी और बुरे हाल में हो गयी।

यह घटना रात्रि करीब 1 बजे की है जब चालक हरमाड़ा थाने की तरफ से निकला और कार को तेज रफ़्तार में भगाता रहा। चालक ने पुलिस की दो गाड़ियों को भी टक्कर मार दी। इसके अलावा कई जगहों पर चालक को रोकने के लिए लगे बेरिकेट्स को भी उसने कार से उदा दिया। इसके बाद एमआई रोड पर उसने अलवर के विधायक की गाड़ी को भी टक्कर मार दी, उसके बाद रास्ता ब्लॉक होने पर पुलिस चालक को पकड़ने में सफल हो पायी। जब चालक से पूछताछ की गयी तो उसने बताया कि वह अपने पिताजी की कार बिना बताये लेकर आया था। घरवालों को पता न चल जाये इसलिए वह पुलिस से बचना चाहता था। हालाँकि इस घटना से किसी की जान नहीं गयी लेकिन ऐसे चालकों की लापरवाही से मासूम लोग मौत की चपेट में आ जाते है।

%d bloggers like this: