July 29, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

पेट्रोल और डीजल की कीमते छू रही है आसमान, जल्द ही 100 रूपए प्रति लीटर हो जायेगा पेट्रोल

देश में महंगाई इस कदर बढ़ती जा रही है यह अब रुकने का नाम नहीं ले रही है और आम आदमी को इससे काफी ज्यादा परेशानिया उठानी पड़ रही है। ऐसे में देश में ईंधन की कीमते भी आसमान छूने लगी है और तेल कम्पनिया लगातार देश में पेट्रोल और डीजल की कीमते बढाती जा रही है। कुछ ही महीनो में पेट्रोल और डीजल की कीमते एक साथ कई गुना बाद गयी है। एक समय पहले पेट्रोल और डीजल की कीमतों में काफी अंतर हुआ करता था, लेकिन अब यह अंतर बहुत ही कम रह गया है और जल्द ही दोनों की कीमतों में बिलकुल भी अंतर नहीं बचेगा। ऐसे आम आदमी के लिए वाहन चलाना बहुत ही महंगा हो गया है।

दो -तीन साल पहले तक देश में पेट्रोल लगभग 70 रूपए प्रति लीटर हुआ करता था और डीजल लगभग 60 रूपए प्रति लीटर से भी कम में मिलता था। लेकिन आज इन दोनों ईंधन की कीमते कई ज्यादा हो गयी है। पेट्रोल की कीमत अब 100 रूपए प्रति लीटर के करीब पहुंच गयी है और डीजल की कीमत में ज्यादा अंतर नहीं बचा है। राजस्थान में यह कीमते अन्य राज्यों की तुलना में और भी ज्यादा है। राजस्थान के जयपुर में पेट्रोल लगभग 94 रूपए प्रति लीटर और डीजल लगभग 86 रूपए प्रति लीटर हो गयी है। इसके अलावा इनकी कीमतों में रोज़ इजाफा हो रहा है, ऐसे में कुछ ही दिन में पेट्रोल 100 रूपए प्रति लीटर तक पहुंच जायेगा।

राजस्थान सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर वैट हटा दिया है, इसके बावजूद पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ गए। राज्य में 2% वैट कम करने के बाद भी पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। राजस्थान के राज्यपाल ने राज्य के बजट सत्र के दौरान इसका मुख्य कारण केंद्र सरकार को बताया है। उन्होंने कहा है की केंद्र सरकार ने ही पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा किया है जबकि राज्य ने वैट हटाया है। राज्यपाल ने देश में हो रही महंगाई का जिम्मेदार केंद्र सरकार को ही बताया है। इसके अलावा उन्होंने कहा की अंतराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑइल की कीमतों में पहले से कमी आयी है, इसके बावजूद केंद्र सरकार सभी शुल्कों को बढाती जा रही है जिससे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है।

%d bloggers like this: