January 17, 2022

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

Substitute of WhatsApp, Twitter and Google maps in India in Hindi

Substitute of WhatsApp, Twitter and Google maps in India in Hindi

पिछले वर्ष से चीन के साथ लगातार चल रहे डिजिटल वॉर में भारतीय सॉफ्टवेयर इंजीनियरों ने सुपरहिट विदेशी मोबाइल ऍप्लिकेशन्स की टक्कर में देसी एप्प्स लॉन्च कर दिये हैं। WhatsApp, Twitter और Google Maps के मुकाबले में एंड्राइड के प्ले स्टोर और एप्पल के एप्प स्टोर पर देसी विकल्प अब मौजूद हो चुके हैं। डिजिटल दुनिया में एकछत्र राज करने वाली विदेशी एप्प्स के मुकाबले में उतारे गये देसी एप्प्स भारतियों को कितना लुभा रहे हैं और टक्कर देने में कितने सक्षम हैं आइये जानते हैं।

WhatsApp मेसजिंग एप्प का देसी विकल्प है Sandes

WhatsApp की प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर होने वाली चर्चा आम आदमी से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक पहुँच चुकी है। ऐसे में भारत सरकार का WhatsApp पर आरोप है कि भारत और दूसरे देशों के साथ Whatsapp की प्राइवेसी पॉलिसी में भिन्नता है जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने WhatsApp को चेतावनी भी दी है।

भारत की संप्रभुता और यहाँ के नागरिकों के डाटा की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सरकार ने GIMS (government instant messaging app) Sandes नाम की एप्प लॉन्च की है। कुछ दिन पूर्व तक यह एप्प केवल सरकारी कर्मचारियों के लिए उपलब्ध थी परन्तु अब यह सभी के लिए उपलब्ध हो चुकी।

Sandes एप्प Apple के एप्प स्टोर पर मौजूद है तथा एंड्राइड यूजर्स इस लिंक https://www.gims.gov.in/ से एप्प को डाउनलोड कर इस्तेमाल कर सकते हैं। यूज़र्स एप्प को काफी पसंद कर रहे हैं और WhatsApp का बढ़िया देसी विकल्प बता रहे हैं। इस एप्प को Digital India प्रोग्राम के तहत National Informatics Centre द्वारा डेवलप किया गया है।

अब इंडिया tweet नहीं Koo करेगा

Toolkit मामले को लेकर Twitter पर भी खूब तनातनी चल रही है। भारत सरकार ने twitter से कुछ यूज़र्स को हटाने की मांग की थी जिस पर ट्विटर ने सरकार को कुछ ख़ास भाव नहीं दिए। इस पर खुद सरकार ने ट्विटर के देसी विकल्प Koo की पैरवी करनी शुरू कर दी है। Koo पर भाजपा और राइट विंग के एकाउंट्स बना दिए गये हैं। हालाँकि twitter के टक्कर में इसका पलड़ा अभी एकदम हल्का दिखाई पड़ रहा है लेकिन यदि ये सारे एकाउंट्स twitter को छोड़ Koo पर शिफ्ट हो जाते हैं तो भारी परिवर्तन देखा जा सकता है।

Koo की थीम पीले रंग की है और लोगो भी ट्विटर से मिलता जुलता बनाया गया है। Koo पर twitter के सारे फीचर्स मौजूद हैं बल्कि Character Limit भी अधिक रखी गयी है। Koo को अगस्त 2020 में AatmaNirbhar App के अवार्ड से सम्मानित किया गया है तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में भी Koo का जिक्र किया था। Koo, Apple के App Store तथा Google के Play Store दोनों पर मौजूद है।

Google Maps के मुकाबले में इसरो की सहायता से लाया गया है MapMyIndia App

आजकल गूगल मैप्स के सहायता के बिना कहीं भी पहुंचना मुश्किल लगने लगा है। गूगल मैप्स ना केवल दो locations के बीच की दूरी बल्कि यहाँ से वहाँ पहुँचने का रास्ता, उसमे लगने वाला समय, रास्ते में ट्रैफिक की जानकारी आदि सभी आसानी से बता देता है। गूगल मैप्स अंतरिक्ष में उपस्थित गूगल की ही सैटेलाइट्स की मदद से यह सब करता है।

MapMyIndia को भी गूगल maps की तर्ज पर ही बनाया गया है। यह भी एक स्थान से दूसरे स्थान की दूरी के साथ नेविगेट करने में भी सक्षम है। इसके अलावा इसमें share my location का विकल्प भी दिया गया है। यह अभी तक 10 लाख से अधिक यूज़र्स तक पहुँच चुकी है।

इसकी सबसे बड़ी खासियत है कि यह भारत में Covid-19 संक्रमण के बारे में भी यूज़र्स को सचेत कर रहा है। तथा इसकी सबसे बड़ी खामी यह है कि इसमें केवल इंडिया की मैपिंग की गई है अतः यह भारत से बाहर के देशों के लिए अभी काम की एप्प नहीं है। हालांकि इस पर भी काम चलने की बात कही गई है।

इसके अलावा भी हैं कई उन चाइनीज एप्प्स के विकल्प जिन्हे भारत में बैन कर दिया गया

CamScanner को भारत में बैन कर दिया गया है जिसके विकल्प में भारत में बनी Kaagaz Scanner काफी पॉपुलर हो रही है। इसके अलावा Xender एवं Shareit जैसी फाइल शेयरिंग एप्प्स के विकल्प में Zee share और Jio Switch जैसी apps भी play store पर मौजूद हैं। Google Drive की टक्कर में बनाई गई Digiboxx को काफी सराहा जा रहा है, जिसमे डाटा सेविंग के साथ-साथ insta share का विकल्प भी दिया गया है। जिससे बड़े साइज की फाइल शेयर करना आसान हो गया है।

%d bloggers like this: