August 4, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

देश में फिर से बढ़ने लगा है कोरोना, महाराष्ट्र के कई शहरो में लॉक डाउन लगाया

देश में कोरोना वायरस के कारण साल 2020 में पूरा देश लॉक डाउन में रहा। ऐसे में साल 2021 की शुरुवात में वैक्सीन के आ जाने से देश में कोरोना वायरस का असर कम होने लगा था लेकिन देश में लॉक डाउन के खुल जाने कुछ ही महीनो में कोरोना वायरस फिर से तेजी से फैलने लगा है। भारत के महाराष्ट्र राज्य में सबसे ज्यादा कोरोना मामले आने लगे है और ऐसे में महाराष्ट्र के कई शहरो में फिर लॉज डाउन लगा दिया गया है। इसके अलावा पंजाब में भी फिर से कोरोना ब्लास्ट होना शुरू हो गया है और पंजाब में भी करीब आठ शहरो में नाईट कर्फ्यू लगा दिया गया है। पंजाब और हरियाणा के सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित शहरो रात 12 बजे से सुबह 6 बजे तक लॉक डाउन लगा दिया गया है। इसके अलावा कुछ शहरो में आंशिक रूप से नाईट कर्फ्यू की घोषणा की गयी है।

महाराष्ट्र में एक दिन में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले सामने आये है। महाराष्ट्र में शुक्रवार को 15,817 कोरोना वायरस के नए केस मिले है जो कि किसी भी राज्य में सबसे ज्यादा है और ऐसे में इस स्थिति ने एक बार फिर से प्रशासन की चिंता को बढ़ा दिया है। अब सरकार ने राज्य में कोरोना के मामलों को फिर से नियंत्रित करने के लिए फिर से सख्त कदम उठाया है और सबसे ज्यादा गंभीर शहरो में फिर से लॉक डाउन लगा दिया है। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का संक्रमण नया स्ट्रेन नहीं है बल्कि लॉक डाउन हटा दिए जाने के बाद लोगो के द्वारा की गयी लापरवाही के कारण यह वायरस फिर से सक्रीय हो गया है।

ऐसे अगर देश में सभी राज्यों के लोग लापरवाही करने लग जायेंगे तो देश में किये गए वेक्सिनेशन का कोई फायदा नहीं होगा और फिर से देश के अन्य राज्यों से भी कोरोना वायरस के मामले आना शुरू हो जायेंगे और इससे देश की स्थिति पर बुरा असर पड़ सकता है। हालाँकि राजस्थान देश में कोरोना वैक्सीन का टीका लगाने के मामले में नंबर एक पर है और राज्य ने देश में सबसे ज्यादा टीकाकरण कराया है। लेकिन सरकार को अब राज्य में कोरोना के नियमो को फिर से सख्ती से लागु करने की जरुरत है ताकि राज्य में अब संक्रमण फिर से ना फैले।

%d bloggers like this: