June 25, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

साप्ताहिक राशिफल महाउपाय के साथ – 22 से 28 मार्च 2021 तक का समय कैसा रहेगा आपके लिए

साप्ताहिक राशिफल उपाय के साथ,मीन राशि [PISCES] का साप्ताहिक राशिफल,मेष राशि [ARIES] का साप्ताहिक राशिफल,साप्ताहिक राशिफल,22 to 28 March Saptahik rashifal, वृतांत - Vritaant

।।श्री गणेशाय नमः।।

साप्ताहिक राशिफल महा उपाय के साथ  22 मार्च 2021 से 28 मार्च 2021 तक का समय कैसा रहेगा 12 राशियों के लिए। जिन जातको को जन्म राशि का ज्ञान नहीं है अपने नाम के प्रथम अक्षर से राशिफल देखें। कोई दुविधा या प्रश्न है तो लिखिए।

महा उपाय सभी के लिए  – सोमवार को दुर्गा जी को सामर्थ्य अनुसार श्रृंगार सामग्री अर्पण करें।

जो भी आपको बताएं जा रहें हैं सभी आपके लाभार्थ हेतु हैं। यदि आपके मन में शंका है या प्रश्न है क्यों करें, तो आप उपाय न करें।  ये श्रद्धा और विश्वास पर आश्रित उपाय हैं।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

ज्योतिषी अनु गर्ग
गाज़ियाबाद, उत्तरप्रदेश

मेष राशि [ARIES] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों के नाम ( चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ ) से शुरू होते है उनकी राशि बनती है।  इस सप्ताह चन्द्र देव आपकी जन्म राशि से तीसरे, चौथे, पांचवे, षष्ट भाव में भ्रमण करेंगे आपकी राशि पर क्या पड़ेगा प्रभाव:-

परिवार एवम् मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरंभ में आपका समय अनुकूल होगा। छोटे भाई बहन का सहयोग मिलेगा।पड़ोसियों से  विवाद न करें। मध्य सप्ताह में माता से कुछ मन मुटाव हो सकता है, अपनी वाणी पर नियंत्राण रखें थोड़ा धैर्य रखें l  माता से धन प्राप्ति हो सकती है। पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा। सप्ताह के अंत में घर में प्रसन्नता का अनुभव करेंगे। मित्रो के साथ पार्टी कर सकते है।

मानसिक प्रसन्नता तो रहेगी,  परंतु खर्चों की अधिकता से परेशान भी रहेंगे। समारोह आदि में अधिक समय बीतेगा। माता का आशीर्वाद लें। ननिहाल से कोई समाचार प्राप्त होगा।

व्यवसाय एवं शिक्षा :-

सप्ताह के आरंभ में प्रतिस्पर्धा क्षमता बढ़ेगी। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। व्यवसाय में वृद्धि होने के संकेत हैं धन लाभ होगा।  कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। धर्म-कर्म में व्यस्तता बढ़ सकती है। सप्ताह के मध्य में प्रोपर्टी का लेन देन कर सकते है। वाहन क्रय कर सकते हैं। थोड़ा संभाल के कार्य करें। लेखक वर्ग के लिए समय उपयुक्त है। मान सम्मान बढ़ेगा। सप्ताह के अंत में शत्रु परास्त होंगे। साझेदारी में लाभ होगा समय अनुकूल रहेगा। देनदारी का धन वापस मिल सकता है। शिक्षा में प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी। विद्यार्थी वर्ग पढाई में सलग्न रहेंगे। नौकरी में उन्नति के संकेत है।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

खाने पर नियंत्रण रखें अन्यथा पेट संबधी विकार हो सकता है। गैस एसिडिटी हो सकती है। संतान को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। प्रेम प्रसंग सफल होंगे संबंधों में मधुरता रहेगी। जीवन साथी से मतभेद हो सकतें है। शांति बनाये रखें। विवाद बढ़ सकता है। आत्म नियंत्रण रखें।

आपके लिए सरल उपाय :- अधिक तला भुना खाने से बचें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

वृषभ राशि [TAURUS] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातक के नाम ( ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) अक्षरों से होते है उनकी राशि वृषभ है।  चन्द्र का गोचर आपकी राशि से द्वितीय, तृतीय, चतुर्थ और पंचम भाव में रह कर आप पर डालेगा प्रभाव

परिवार एवम् मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरंभ में वाणी पर नियंत्रण रखें परिवार में कलह हो सकती है। अहंकार से बचें l मन अशांत रहेगा। आत्मविश्वास में कमी आएगी। स्वभाव में चिड़चिड़ापन हो सकता है। बातचीत में संयत रहें। मध्य सप्ताह उत्साहित रहेंगे  छोटे भाई बहन मित्रो  का सहयोग मिलेगा।  माता से कुछ मन मुटाव हो सकता है थोड़ा धैर्य रखें अन्यथा परिवार में कलह बढ़ सकती है। माता का अपमान न करेंl  घर में घुटन महसूस करेंगे। सप्ताह के अंत में संतान को लेकर चिंतित हो सकते हैं। इस सप्ताह वाहन के रखरखाव पर खर्च बढ़ेगा।

व्यवसाय एवं शिक्षा :-

सप्ताह के आरंभ में प्रतिस्पर्धा क्षमता बढ़ेगी आत्मविश्वास में वृद्धि होगी सप्ताह के मध्य में प्रोपर्टी का लेन देन ना करे टाल दें तो बेहतर होगा थोड़ा संभाल के कार्य करें l आय के साधनो में कुछ कमी आ सकती है l लेखक वर्ग के लिए समय उपयुक्त है। साझेदारी में लाभ होगा समय अनुकूल रहेगा देनदारी का धन वापस मिल सकता है शिक्षा में प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी विद्यार्थी वर्ग पढाई में सलग्न रहेंगे नौकरी में उन्नति के संकेत है।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से समय अनुकूल है सप्ताह के अंत में बुखार जुकाम हल्की स्वास्थ्य समस्या हो सकती है।  जीवनसाथी को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। सेहत का ध्यान रखें। संबंधों में मधुरता रहेगी। वैवाहिक जीवन खुशियों भरा रहेगा कुल मिलाकर सप्ताह अच्छा रहेगा। कुटुंब का सहयोग मिलेगा।

आपके लिए सरल उपाय :- पूजा स्थल की नियमित सफाई करें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

मिथुन राशि [GEMINI] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों का जन्म नाम अक्षर ( का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह ) होता हैं उनकी राशि होगी मिथुन। इस सप्ताह चन्द्र देव आपकी जन्म राशि से  लगन, दूसरे तृतीय और चतुर्थ भाव में गोचर कर आपको क्या देने वाले है देखिए अपनी राशि का भविष्यफल-

परिवार मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरंभ में परिवार में तनाव हो सकता है खर्चाअधिक होगा। रिश्तेदारों से अपमान मिलेगा किसी के घर न जाये। मध्य समय में व्यवहार में सकारात्मकता आएगी। भाग्योदय होगा मन प्रसन्न रहेगा, परिवार का सहयोग मिलेगा।  दम्भ में न रहें  वाणी पर थोड़ा नियंत्रण रखे तो समय अनुकूल रहेगा। परिवार में खुशी का माहौल होगा। सप्ताह अंत में गलत फहमी हो सकती है। मित्रो का सहयोग मिलेगा। समय उत्तम है सावधानी रखेंगे तो कार्य पूर्ण होंगे l

व्यवसाय एवम् शिक्षा :-

सप्ताह के आरंभ में व्यवसाय में कोर्ट कचहरी  में धन खर्च होगा। खर्चों की अधिकता रहेगी। संचित धन में कमी आएगी। नौकरी छूट सकती है। कार्य स्थल पर अपमान भी झेलना पड़ सकता है। मध्य समय अच्छा रहेगा।  किसी मित्र की मदद से आय के स्रोत विकसित हो सकते हैं। मन मुताबिक स्थानांतरण प्राप्त कर सकेंगे l प्रोन्नति के स्पष्ट संकेत हैं  राजनैतिक क्षेत्र में वृद्धि होगी और सप्ताहांत में किसी बड़े कॉन्ट्रैक्ट पर काम करेंगे। शिक्षा के क्षेत्र में लाभ के  संकेत है प्रतियोगी परीक्षा में रूकावट आएगी मित्रो का सहयोग मिलेगा। कार्य करने में सावधानी रखें।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

आरंभ में स्वास्थ्य में शारीरिक और मानसिक कष्ट झेलना पड़ेगा। त्वचा की एलर्जी से परेशानी हो सकती है। खानपान में सचेत रहें। मेहनत अधिक करनी पड़ेगी। आँखों का ख्याल रखें। मध्य सप्ताह में स्वास्थ्य में सुधार होगा और मेहनत का पूर्ण फल प्राप्त होगा। सप्ताहांत में अपनी इच्छाशक्ति से सुदृढ़ और स्वस्थ होंगे। आलस्य से उबरेंगे और सम्मान बढ़ेगा। प्रेम संबंधों में अधिक लिप्त रहेंगे वैवाहिक जीवन में कुछ खट पट हो सकतीहै संयम रखें अन्यथा तलाक की नौबत आ सकती है। लेकिन सप्ताह बीतने के साथ वातावरण सौहार्द पूर्ण होगा। कुटुंब का सहयोग मिलेगा।

आपके लिए सरल उपाय :- सूर्य देव को गायत्री मन्त्र के जप के साथ जल अर्पित  करें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

कर्क राशि [CANCER] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातको का जन्म नाम अक्षर ( ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो ) से होता है उनकी राशि कर्क। इस सप्ताह चन्द्र देव आपकी जन्म राशि से द्वादश, लगन, दूसरे तीसरे भाव में गोचर कर आपको क्या देने वाले है देखिए अपनी राशि का भविष्यफल-

परिवार एवं मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरंभ में खर्चे अधिक हो सकते है परिवार में तनाव की स्थिति बनेगी मन में उद्विग्नता रहेगी। मन में निराशा और असंतोष के भाव रहेंगे। रिश्तेदारों से कहासुनी हो सकती है। मध्य समय में व्यवहार में सकारात्मकता आएगी। परिवार का साथ मिलेगा। जिम्मेदारियां बढ़ सकती हैं। परिश्रम अधिक रहेगा। भाग्योदय होगा, वाणी पर थोड़ा नियंत्रण रखे तो समय अनुकूल रहेगाी l परिवार में खुशी का माहौल होगा। सप्ताह अंत में गलत फहमी हो सकती है। मित्रो का सहयोग मिलेगा।पड़ोसियों से मेलजोल बढ़ेगा l

व्यवसाय एवम् शिक्षा :-

सप्ताह के आरंभ में व्यवसाय में अधिक इन्वेस्ट करेंगे। कोर्ट केस में धन खर्च होगा। नौकरी छूट सकती है। कार्य स्थल पर अपमान भी झेलना पड़ सकता है।  नौकरी में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। स्थान परिवर्तन के योग भी बन रहे हैं। मध्य समय अच्छा रहेगा। राजनैतिक क्षेत्र में वृद्धि होगी और सप्ताहांत में किसी बड़े कॉन्ट्रैक्ट पर काम करेंगे। शिक्षा में लाभ के संकेत है प्रतियोगी परीक्षा में रूकावट आएगी मित्रो का सहयोग मिलेगा। नौकरी वर्ग के लोग परेशान रह सकते है कार्य करने में सावधानी रखें।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

आरंभ में स्वास्थ्य में शारीरिक और मानसिक कष्ट झेलना पड़ेगा। मुँह में छाले एलर्जी से परेशानी हो सकती है। खर्चों में वृद्धि होगी। पिता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। मेहनत अधिक करनी पड़ेगी। आँखों का ख्याल रखें। मध्य सप्ताह में स्वास्थ्य में सुधार होगा और मेहनत का पूर्ण फल प्राप्त होगा। सप्ताहांत में अपनी इच्छाशक्ति से सुदृढ़ और स्वस्थ होंगे। आलस्य से उबरेंगे और सम्मान बढ़ेगा।प्रेम संबंधों में अधिक लिप्त रहेंगे वैवाहिक जीवन में कुछ खट पट हो सकती है संयम रखें अन्यथा तलाक की नौबत आ सकती है। लेकिन सप्ताह बीतने के साथ वातावरण सौहार्द पूर्ण होगा। कुटुंब का सहयोग मिलेगा।

आपके लिए सरल उपाय :- सोमवार का व्रत रखें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

सिंह राशि [LEO] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातको का जनम नाम अक्षर (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) से होता है उनकी राशि सिंह होगी। इस सप्ताह चंद्रदेव आपकी राशि से एकादश, द्वादश, लगन तथा द्वितीय भाव में गोचर करेंगे क्या होगा आपकी राशि पर प्रभाव

परिवार एवं मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरंभ में मित्रो भाइयो  का सहयोग मिलेगा। धन लाभ होगा।चाचा जी से मिलना  हो सकता है। धार्मिक अनुष्ठान घर में करा सकते हैं। संतान के साथ समय व्यतीत करेंगे। संतान के जीवनसाथी से मतभेद हो सकता है। मध्य में मानसिक चिंता। आशा-निराशा के मिश्रित भाव रहेंगे।‘क्षणे रुष्टा क्षणे तुष्टा’ की मानसिकता हो सकती है। खर्चे अधिक होंगे। थोड़ा नियंत्रण रखें और कर्जा लेने से बचें। सप्ताहांत में अच्छा धन लाभ होगा। परिवार में सुख शांति रहेगी चाहते हैं तो वाणी पर नियंत्रण रखें। शत्रु परास्त होंगे।

व्यवसाय एवं शिक्षा :-

व्यवसाय में वृद्धि होगी नया व्यवसाय आरम्भ करने का विचार कर सकते  है। रुका पैसा मिल सकता है। पैतृक बेचना चाहते है तो सप्ताह का पूर्वार्ध उत्तम रहेगा। लाभ होने के संकेत हैं  नए कार्य क्षेत्र के रास्ते खुलेंगे विद्यार्थी वर्ग का शिक्षा के प्रति अधिक रुझान रहेगा और लाभ भी प्राप्त होगा नौकरी वालो के लिए कार्य के नए अवसर मिलेंगे कोर्ट केस में समय नष्ट हो सकता है। प्रतियोगी परीक्षा में असफल होने की आशंका है। संचित धन में वृद्धि होगी l नौकरी में परिवर्तन की संभावना बन रही है। तरक्की के योग भी बन रहे हैं। शासन-सत्ता का सहयोग मिलेगा। कुछ पुराने मित्रों से भेंट हो सकती है।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

सप्ताह के आरंभ में स्वास्थ्य उत्तम रहेगा प्रसन्नचित मन उत्तम भोजन मित्रो से मिलना मध्य में सामान्य रहेगा। क्रोध पर नियंत्रण रखें। शारीरिक कष्ट हो सकता है सप्ताहांत में थोड़ा सेहत का ध्यान रखें उचित खान पान लें। सप्ताह आरम्भ में वैवाहिक जीवन में सुख प्राप्ति होगी संतान प्राप्ति हो सकती है प्रेम प्रसंग भी वैवाहिक जीवन में परिवर्तित हो सकते हैं मध्य और सप्ताह अंत में पारिवारिक वातावरण सुखद होगा। विवाह योग्य हैं तो विवाह होने के योग इस सप्ताह बनते हैं।

आपके लिए सरल उपाय :-  अधिक लोगो से मिलने से बचें ।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

कन्या राशि [VIRGO] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों का जन्म नाम अक्षर (ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो ) से हुआ है उनकी राशि कन्या राशि होगी l इस सप्ताह चन्द्र देव आपकी राशि से दशम एकादश द्वादशऔर लग्न भाव में गोचर करेंगे कैसा होगा आप पर इस गोचर का प्रभाव

परिवार एवं मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरम्भ मेंभाग्य प्रबल रहेगा कार्य सिद्धि होगी। परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। लम्बे समय से चले आ रहे कार्य पूर्ण होंगे l  मेहमान के आने से परिवार में ख़ुशी का माहौल रहेगा। मन अशांत रहेगा। आत्मविश्वास में कमी आएगी। संयत रहें। अपनी भावनाओं को वश में रखें। भवन-सुख में वृद्धि होगी। मध्य सप्ताह में भाई बहन के साथ समय बिताएंगे। मित्रो के साथ घूमने जाने से बचे।मौज मस्ती में समय बीतेगा। सप्ताहांत रिश्तेदारो से मनमुटाव हो सकता है लेकिन अंत मे मन प्रफुल रहेगा।

व्यवसाय एवं शिक्षा :-

व्यवसाय में आपके किये काम का परिणाम लाभ के रूप में मिलेगा। प्रॉपर्टी से धन लाभ होगा। राजनीतिक क्षेत्र में सफलता मिलेगी। यात्राएं अधिक करेंगे बड़े भाई के सहयोग मिलेगा धन लाभ होगा। पूरा सप्ताह व्यस्त रहेंगे। विदेशी कंपनी में भी कार्य कर सकते है लेकिन माता पिता की सलाह के बिना विदेशी अनुबंध ना करें हानि हो सकती है।विदेश यात्रा भी कर सकते है। नौकरी में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। आय में कमी आ सकती है। भाग्य का भरपूर साथ तो मिलेगा सावधानी रखें जेल भी जाना पड़ सकता है।कुल मिलकर भाग्य का साथ मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग के लिए ये सप्ताह अति उत्तम परिणाम लाएगा शिक्षा में सफलता मिलेगी मित्रो का साथ रहेगा और मनचाहे विषय को पढ़ने का अवसर मिलेगा।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

सप्ताह आरम्भ में स्वास्थय अच्छा रहेगा। उत्तम खान पान, मेहमानो के साथ समय बीतेगा। पैरो में दर्द की समस्या परेशान कर सकती है सप्ताहांत में पिता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं।  सेहत का खयाल रखें।  अन्यथा अधिक परेशानी स्वास्थ्य को लेकर हो सकती है। वैवाहिक जीवन उत्तम रहेगा। प्रेम प्रसंग में आरंभिक सप्ताह में लाभ मिलेगा। मध्य में प्रेम प्रसंग में कुछ समस्या हो सकती है और दाम्पत्य जीवन में खींचतान हो सकती है। संतान से लाभ मिलेगा। सप्ताह अंत में मन प्रसन रहेगा। सुख का अनुभव करेंगे।

आपके लिए सरल उपाय:- ॐ नमो नारायणाय  का जप करें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

तुला राशि [LIBRA] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों का जन्म नाम अक्षर (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते ) से हुआ है उन की राशि है  तुला। जानिए सप्ताह का राशि फल गोचर में चन्द्रमा आपकी जन्म राशि से नवम, दशम, एकादश, द्वादश भाव में भ्रमण कर आपको करेंगे प्रभावित-

परिवार एवं मित्र बंधु :-

आने वाला सप्ताह आपके लिए महत्वपूर्ण रहेगा l आत्मविश्वास से भरे रहेंगे। मन में शांति और प्रसन्नता के भाव रहेंगे। वस्त्रों के  प्रति रुझान बढ़ सकता है। धर्म कार्यो में रूचि बढ़ेगी। तीर्थ यात्रा पर जा सकते है। यात्रा के संयोग सप्ताह के आरम्भ में बन रहे हैं। दादा दादी के साथ समय व्यतीत करेंगे। खर्चा अधिक करेंगे संतान से मन मुटाव हो सकता है। ससुराल पक्ष से कोई मेहमान आ सकते हैं। सप्ताह के अंत में बड़े भाई बहन का साथ मिलेगा। धन लाभ होगा, सप्ताह कुछ छोटे-छोटे उतार चढ़ाव के बाद प्रसन्नता से व्यतीत होगा। गुस्से पर थोड़ा नियंत्रण रखें। माता पिता की सेवा करे लाभ होगा।

व्यवसाय एवं शिक्षा :-

व्यवसाय में कुछ हानि हो सकती है। पिता का सहयोग मिलेगा, कार्य व्यवसाय में सफलता मिलेगी। व्यावसायिक संस्थान में कुछ नव निर्माण कर सकते है। कारोबार की स्थिति में सुधार तो होगा, परंतु आय की स्थिति यथावत रहेगी।आपके यश ख्याति में वृद्धि होगी। धन प्राप्ति के सुंदर योग बनते है थोड़ा सोच विचार कर और विश्वास पात्र के साथ ही काम करें। यात्रा करने से बचे। अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। नौकरी वर्ग के जातको को कुछ समस्या हो सकती है।  लेखनादि बौद्धिक कार्यों में व्यस्तता रहेगी। विद्यार्थी वर्ग को मित्रो का सहयोग मिलेगा।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

सप्ताह के आरंभ में स्वास्थ्य सामान्य रहेगा मध्य में स्वास्थय उत्तम रहेगा शारीरिक कष्ट हो सकता है। अधिक पैदल चलने से बचें। सप्ताहांत में स्वास्थ्य हानि हो सकती है डॉक्टर से सलाह लेना उचित होगा। अन्यथा अस्पताल जाना पड़ सकता है।  सप्ताहांत को छोड़ कर बाकी समय उत्तम रहेगा, प्रेम प्रसंग भी सफल रहेंगे। सप्ताह अंत में दाम्पत्य जीवन में कलह हो सकती है।

आपके लिए सरल उपाय :-   श्री सूक्त का पाठ शुक्रवार को करें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

वृश्चिक राशि [SCORPIO] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों का जन्म नाम ( तो, ना, नी, नू, ने, यो, या, यि, यु) अक्षर से शुरु होता है उनकी राशि वृश्चिक होगी।  इस सप्ताह चंद्रदेव आपकी राशि से अष्टम, नवम, दशम, एकादश भाव में भ्रमण करेंगे और कैसे करेंगे आपको प्रभावित-

परिवार एवं मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरम्भ में परिवार में कलह हो सकती है। स्वयं पर नियंत्रण रखें। क्रोध और आवेश के अतिरेक से बचें। वाणी में कठोरता का प्रभाव रहेगा। बातचीत में संतुलित रहें। वाणी की कटुता से विवाद बढ़ सकता है नियंत्रण रखें। ससुराल पक्ष में कोई समस्या हो सकती है। कुटुंब परिवार में धार्मिक कार्य हो सकते हैं। भाई-बहनों का साथ मिलेगा। वस्त्रों पर खर्च बढ़ सकते हैं।  मध्य में छोटे भाई बहन की उन्नति से मन प्रसन्न होगा। छोटे भाई बहन के विवाह के शुभ संकेत इस सप्ताह मिलते हैं।  सप्ताह के अंत में परिवार में स्वास्थ्य लाभ होगा परिवार में सुख शांति रहेगी। पिता का सहयोग मिलता हुआ दिखाई पड़ता है।

व्यवसाय एवं शिक्षा :-

पैतृक संपत्ति का विवाद हल हो सकता है। शेयर में निवेश कर सकते है धैर्य से काम लेना उत्तम रहेगा सप्ताह मध्य धन लाभ देगा। गलत तरीके से या रिश्वत से धनार्जन करने से बचें अन्यथा अपमान झेलना पड़ पड़ेगा। नौकरी वर्ग के जातको को भागदौड़ करनी पड़ेगी। कोई गलत काम करने से बचें अन्यथा जेल भी जाना पड़ सकता है। नौकरी में बदलाव भी कर सकते है। शिक्षा में अनुसन्धान कार्यो में सफलता मिलेगी और विधार्थी वर्ग पढाई पर कम ध्यान देंग जिससे शिक्षा की हानि होगी। शैक्षिक कार्यों में कठिनाइयां आ सकती हैं।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

इस सप्ताह मानसिक चिंता एवं अधिक परिश्रम व वाद विवाद के कारण स्वास्थ्य हानि हो सकती है। कोई पुराना रोग फिर से परेशान कर सकता है। वाहन संभल कर चलाये चोट लगने की संभावना है। पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। धैर्य रखें समय अच्छा बीतेगा। वैवाहिक जीवन में उतार चढाव आएंगे ससुराल पक्ष से मनमुटाव हो सकता है। यात्रा करने से बचे सप्ताहांत तक सब ठीक होगा प्रेम प्रसंग मे मतभेद हो सकता है। धोखा देने से बचें।

आपके लिए सरल उपाय :- श्री हनुमानाष्टक  का पाठ करें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

धनु राशि [SAGGITARIUS] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों का जन्म नाम अक्षर (ये, यो, भा, भी, भू, धा, फ, ढ, भे) है उनकी राशि धनु होगी।  जाने इस सप्ताह का राशिफल चन्द्र देव आपकी राशि से सातवे, आठवे, नवें, दशम भाव में गोचर कर कैसे आपको प्रभावित करेंगे।

परिवार एवं मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरंभ में आप को सुख आनंद परिवार के साथ समय व्यतीत करेंगे। घर में खुशी का माहौल रहेगा। माता का आशीर्वाद, प्यार मिलेगा। आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु अति उत्साही होने से बचें। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। कुटुंब के किसी बुजुर्ग से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। कारोबार का विस्तार होगा। लाभ के अवसर मिलेंगे। मित्रों से मदद मिलेगी। मध्य सप्ताह कुछ कठिनाईयों भरा रहेगा, व्यर्थ चिंता तथा भागदौड़ कलह होगी। संतान पक्ष को लेकर कुछ तनाव हो सकता है। यात्रा के योग बनते है। सप्ताह अंत में पिता का सहयोग मिलेगा। कार्य सिद्धि होगी।

व्यवसाय एवं शिक्षा :-

व्यवसाय में सफलता हासिल करेंगे धन आगमन के योग इस सप्ताह बनते है। आपकी ख्याति दूर तक फैलेगी। साझेदारी में व्यवसाय करने में सावधानी रखें, नोकरी में उन्नति हो सकती है। धन लाभ के योग है।अधिकारी वर्ग से मान सम्मान मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग को शिक्षा में सफलता मिलेगी, प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी। मध्य सप्ताह में ध्यान थोड़ा भटक सकता है सप्ताह अंत में मन प्रसन्न रहेगा।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

सप्ताह की शुरुआत उत्तम भोजन से होगी, मनपसंद पदार्थ भोजन में शामिल होने से प्रसन्नता होगी। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। मध्य सप्ताह कुछ मन को अशांत कर सकता है। व्यर्थ की यात्रा से परेशान होंगे। सप्ताह अंत तक सुधार के संकेत है। एसिडिटी के शिकार हो सकते है ध्यान रखें। घुटने में दर्द हो सकता है।  दाम्पत्य जीवन के लिए शुभ रहेगा। आपको जीवन साथी का सहयोग मिलेगा। जीवन में उल्लास रहेगा प्रेम संबंधों में भी प्रगाढ़ता बढ़ेगी। वहीं सप्ताह मध्य कुछ तनाव उत्पन्न होगा। गलतफहमी हो सकती हैं। ससुराल से कुछ अनबन हो सकती है लेकिन सप्ताहांत सुखद होगा। दाम्पत्य जीवन में सौहार्द बढ़ेगा।

आपके लिए सरल उपाय:- गौ माता की सेवा करें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

मकर राशि [CAPRICORN] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों का जन्म नाम (भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी ) अक्षर से आरम्भ होते हैं उनकी जन्म राशि मकर है। इस सप्ताह चन्द्रमा आपकी जन्म राशि से  छटे, सातवे, आठवे नवम भाव में गोचर कर करेंगे आपको प्रभावित।

परिवार एवं मित्र बंधु:-

सप्ताह का आरम्भ आपके लिए लाभकारी होगा।संतान की कार्य सिद्धि होगी। मन में अंजाना भय रहेगा ससुराल पक्ष से कोई सुचना प्राप्त होगी परिवार में किसी अनचाही समस्या का सामना करना पड़ेगा l वाणी में सौम्यता रहेगी। वाणी के प्रभाव में वृद्धि होगी। वाणी के प्रभाव से रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे, परंतु पारिवारिक समस्याएं परेशान कर सकती हैं। रहन-सहन कष्टमय हो सकता है।  सप्ताह मध्य कुछ राहत देगा भाग्य का साथ मिलेगा पिता के सहयोग से कार्य करेंगे। पिता की अवहेलना न करे संतान से मतभेद होने की संभावना है छोटे भाई बहन के साथ समय बिताएँगे सप्ताह अंत में क्रिया शील रहेंगे माता का आर्शीवाद लें समय अच्छा बीतेगा।

व्यवसाय एवं शिक्षा:-

आय में कमी और खर्च अधिक की स्थिति रहेगी। कारोबार में किसी मित्र का सहयोग मिल सकता है। गुप्त धन प्राप्त हो सकता है निवेश करने के लिए अच्छा समय है पिता की सलाह से निवेश करेंगे तो लाभ होगा कार्य में सफलता मिलेगी नौकरी वर्ग को अधिक मेहनत के बाद भाग्य का साथ मिलेगा और उन्नति लाभ प्राप्त करने के योग बनते हैं। विद्यार्थी वर्ग के लिए अच्छा समय है किसी रिसर्च आदि में प्रगति कर सकते है उच्च शिक्षा के क्षेत्र में सफलता के योग हैं l

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

अधिक खाने से बचे पेट सम्बन्धी समस्या हो सकती है। सप्ताह मध्य में पुरानी या दबी बीमारी परेशान कर सकती हैं। सावधानी रखें बीमारी पर खर्चा संभव हैं। धार्मिक यात्रा पर जाने के योग इस सप्ताह बनते है यात्रा में सावधानी रखें।जीवन साथी के साथ बीतेगा कही घूमने जा सकते है। प्रेमप्रसंग में थोड़ी सतर्कता बरतें। अन्यथा समस्या का सामना करेंगे।

आपके लिए सरल उपाय:- श्री गणेश गायत्री मन्त्र का पाठ करें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

कुंभ राशि [AQUARIUS] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों के जन्म नाम का पहला अक्षर ( गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा ) है उनको मिली है कुंभ राशि। इस सप्ताह तक चंद्र देव आपकी राशि से पंचम, षष्टम, सप्तम और अष्टम भाव में गोचर करेंगे कैसा होगा आपका आने वाला समय

परिवार एवं मित्र बंधु:-

सप्ताह के आरम्भ में संतान की उन्नति आपको प्रसन्न करेगी। मानसिक शांति रहेगी, पर आत्मविश्वास में कमी भी रहेगी। इस सप्ताह किसी मित्र का आगमन हो सकता है। परिवार के साथ यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। छोटे भाई बहन से सहयोग मिलेगा। घर में मांगलिक कार्यक्रम होने के योग है। परिवार में सुख समृद्धि रहेगी।मन मस्तिष्क शांत रहेगा l  लाभ की स्थिति बनेगी सप्ताह अंत संघर्ष पूर्ण रहेगा।  कोई गुप्त शत्रु या परिवार का ही कोई सदस्य समस्या उत्पन्न कर सकता है। पिता की सेहत का ध्यान रखें उनकी सेवा करें। भाग्य अनुकूल नहीं  रहेगा। कुटुंब में विवाद हो सकता है l  सतर्कता बरतें धैर्य से काम लें l

व्यव्साय एवं शिक्षा:-

व्यवसाय में  निवेश कर सकते है लाभ में वृद्धि होगी। भाग्य का साथ मिलेगा। सोच विचार कर काम करेंगे तो सफलता मिलेगी। साझेदारी में व्यवसाय कर सकते हैं, नौकरी वर्ग के लिए अच्छा समय है नौकरी में जाना चाहते है तो समय अनुकूल है उन्नति के अवसर है। कार्य में पारदर्शिता रखें रिश्वत लेने से बचें।अन्यथा हानि हो सकती है l खर्चों की अधिकता रहेगी। संचित धन में कमी आ सकती है। शैक्षिक कार्यों के सुखद परिणाम मिलेंगे। शिक्षा से जुड़े व्यक्ति और विद्यार्थी के लिए अपनी क्षमता दिखने का उत्तम समय हैं सफलता अवश्य मिलेगी।अनुसन्धान के कार्य से जुड़े लोगो के लिए उत्तम समय हैं l

स्वास्थ्य  प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

इस सप्ताह स्वस्थ्य पर ध्यान देने की अधिक आवश्यकता है l शरीर में दर्द की समस्या हो सकती है। भोजन पर पूरा धयान दे कुछ अखाद्य खाने से पीड़ा हो सकती है। लापरवाही न बरते अन्यथा बीमारी बड़ा रूप ले सकती है। सप्ताह का आरम्भ थोड़ा अशांतिपूर्ण रहेगा। मध्य में घर का माहौल प्रसन्नता भरा रहेगा। कही घूमने जाना चाहते है तो अभी टाल दे। प्रेम प्रसंग में वृद्धि होगी। मन भटक सकता है नियंत्रण की आवश्यकता है।

आपके लिए सरल उपाय:- ॐ गं गणपतये नमः का जप करें।

शनि स्तोत्र (Shani Stotra / Stuti): दशरथ जी ने कैसे दूर किया शनिदेव का दोष अपनी कुंडली से त्रेतायुग में

मीन राशि [PISCES] का साप्ताहिक राशिफल

जिन जातकों का जन्म नाम अक्षर ( दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) से शुरु होता है उनकी जन्म राशि मीन होगी। इस सप्ताह चन्द्र देव आपकी जन्म राशि से चौथे, पांचवे, षष्ट और सप्तम भाव में भ्रमण करेंगे आपकी राशि पर क्या पड़ेगा प्रभाव:-

परिवार एवम् मित्र बंधु :-

सप्ताह के आरंभ में आपका समय अनुकूल होगा। साहस में वृद्धि मित्रो के साथ समय बिताएंगे।पड़ोसियों से मेलजोल बढ़ेगा। मध्य सप्ताह में माता से कुछ मन मुटाव हो सकता है l मानसिक तनाव रहेगा। क्रोध और आवेश की अधिकता हो सकती है।  अपशब्द कहने से बचें l वाणी पर नियंत्राण रखें थोड़ा धैर्य रखें अन्यथा परिवार में कलह बढ़ सकती है। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थान की यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है।  सप्ताह के अंत में घर में प्रसन्नता का अनुभव करेंगे। मित्रो के साथ पार्टी कर सकते है।जीवन में संघर्ष बढ़ेगा l  माता का आशीर्वाद लें।

व्यवसाय एवं शिक्षा :-

सप्ताह के आरंभ में प्रतिस्पर्धा क्षमता बढ़ेगी। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। व्यवसाय में वृद्धि होने के संकेत हैं धन लाभ होगा। सप्ताह के मध्य में  थोड़ा संभाल के कार्य करें। सप्ताह के अंत में शत्रु परास्त होंगे।लेखक वर्ग के लिए समय उपयुक्त है। मान सम्मान बढ़ेगा।  साझेदारी में लाभ होगा समय अनुकूल रहेगा। देनदारी का धन वापस मिल सकता है। शिक्षा में प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी। विद्यार्थी वर्ग पढाई में सलग्न रहेंगे। नौकरी में उन्नति के संकेत है।प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी।

स्वास्थ्य, प्रेम प्रसंग एवम् वैवाहिक जीवन :-

खाने पर थोड़ा नियंत्रण रखें अन्यथा एसिडिटी हो सकती है। सप्ताह के अंत में बुखार जुकाम हल्की स्वास्थ्य समस्या हो सकती है।  संतान को स्वास्थ्य विकार हो सकता है। सतर्क रहें l प्रेम प्रसंग सफल होंगे संबंधों में मधुरता रहेगी। जीवन साथी से मतभेद हो सकतें है। शांति बनाये रखें। विवाद बढ़ सकता है।

आपके लिए सरल उपाय :- श्री लक्ष्मी नारायण के मंदिर में प्रसाद अर्पण करें।

 

नोट : जो भी उपाय बारह राशियों के लिए बताये गएँ है, कृपया उसी सप्ताह करें जिस सप्ताह का राशि फल है, निरंतर न करते जाएँ।

%%footer%%