June 18, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

राजस्थान सरकार 1 अप्रैल से राज्य के बेरोजगार युवाओ को बेरोजगारी भत्ता देना शुरू करेगी

unemployment allowance in rajasthan from 1 april, वृतांत - Vritaant

राजस्थान सरकार राज्य के युवाओ के लिए एक और नयी सौगात लाने जा रही है। राज्य सरकार 1 अप्रैल से राज्य के बरोजगार युवाओ के लिए बेरोजगारी भत्ता देना शुरू करने वाली है। राजस्थान में जब गहलोत सरकार सत्ता में आयी थी तब मुख्य मंत्री ने राज्य के बेरोजगार युवाओ को बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा की थी जिसमे पहले बरोजगार युवाओ को प्रतिमाह 3,000 रूपए देने की घोषणा की गयी थी। लेकिन हाल ही में राज्य बजट 2021 में मुख्य मंत्री ने युवाओ को दी जाने वाली राशि में बढ़ोतरी कर दी थी और अब इस बेरोजगारी भत्ते की राशि को बढाकर 4,000 रूपए कर दिया गया है। अब यह बढ़ा हुआ भत्ता राज्य के बेरोजगार युवाओ को 1 अप्रैल से मिलना शुरू हो जायेगा। प्रदेश के रोजगार कार्यालयों में पंजीकृत राज्य के बेरोजगार युवक और युवतिया इस बेरोजगारी भत्ते का लाभ उठा सकते है।

राज्य सरकार इस भत्ते में बेरोजगार युवाओ को 4,000 रूपए प्रति माह और महिलाओ, दिव्यांगों व ट्रांसजेंडर को साढ़े चार हजार रूपए की राशि प्रतिमाह दी जाएगी। राज्य सरकार ने 24 फरवरी 2021 को पेश किये गए वार्षिक बजट में इस बेरोजगारी भत्ते में 1000 रूपए की बढ़ोतरी कर दी थी। इसकी घोषणा करते हुए मुख्य मंत्री अशोक गहलोत ने कहा था कि प्रदेश में करीब 1.60 लाख बेरोजगार युवक व युवतियों को इस योजना से लाभ मिलेगा। इससे पहले भी राज्य में बेरोजगार युवको को 3,000 रूपए और युवतियों को साढ़े तीन हजार रूपए बेरोजगारी भत्ते के रूप में दिए जाते थे।

राजस्थान में इससे पहले भी राज्य के बेरोजगार युवाओ के लिए कई योजनाए चलाई गयी थी इनमे से एक योजना अक्षत योजना के नाम से चलाई गयी थी जिसमे राज्य के बेरोजगार युवको को 600 रूपए और युवतियों को 750 रूपए मिलते थे। लेकिन गहलोत सरकार ने इस बेरोजगारी भत्ते की राशि में बढ़ोतरी कर दी और राज्य के युवाओ को राहत दी। राज्य के बेरोजगार युवक व युवतिया इस बेरोजगारी भत्ते का लाभ उठाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है और राज्य की स्किल एम्प्लॉयमेंट की वेबसाइट पर खुद  को पंजीकृत करवा सकते है। इसके अलावा अपने नजदीकी ई-मित्र सेंटर पर जाकर भी इस योजना के लिए आवेदन किया जा सकता है।