August 3, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

5G के बारे में कुछ ऐसी बाते जो आपको पता होना चाहिए, जानिए कुछ खास बाते 5G के बारे में

हमे कई महीनो से 5G के बारे में सुनते हुए आ रहे है और हम जल्द से 5G का भारत में आने का इंतजार भी कर रहे है। ऐसे में 5G को हमारे लिए आसान बनाने के लिए लगभग सभी स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों ने अपने 5G स्मार्टफोन लॉन्च भी कर दिए है। अब लोगो को केवल 5G सेवा का भारत में रोल आउट होने का इंतजार किया जा रहा है ताकि लोग आते ही इसका उपयोग करना शुरू कर दे। लेकिन 5G के बारे में कुछ ऐसी बाते है जो आप सभी को पता होना चाहिए। सभी 5G के बारे में बाते करते है लेकिन 5G के बारे में जरुरी बातो का पता नहीं होता है। जानिए आखिर 5G के बार में ऐसे कौनसे फैक्ट्स है जिनमे आप अनजान है।

हम फ़िलहाल 4G सेवा को काम में ले रहे है जिसमे हमे वोलटीई सेवा हमारे फ़ोन में देखने को मिलती है। लेकिन जब हम 5G का उपयोग करेंगे तब भी हमे नयी सर्विस देखने को मिलेगी जिसको वौइस् ओवर न्यू रेडियो यानि वीओएनआर कहा जाता है। यानि अगर हम 5G के साथ वौइस् कॉल करेंगे तो वह अल्ट्रा एचडी में होगी। इसके अलावा आपने नाम सुना होगा नॉन स्टैंड अलोन 5G (एनएसए) और स्टैंड अलोन(एसएन) 5G का। जिनमे अगर हम बात करे कि हमे भारत में कौनसा 5G देखने को मिलेगा तो वह नॉन स्टैंड अलोन 5G। यानि भारत में पहले से मौजूद 4G नेटवर्क को ही रातो रात 5G नेटवर्क में बदल दिया जायेगा, जिसके बाद पहले से मौजूद 4G टावर 4G सेवा का भी काम करेंगे और 5G सेवा का भी काम करेंगे। हालाँकि कम्पनिया स्टैंड अलोन 5G पर भी काम कर रही है लेकिन भारत में सबसे पहले नॉन स्टैंड अलोन 5G सेवा देखने को मिलेगी।

इसकी मदद से केवल एक दिन में ही भारत में 4G सेवा को 5G में बदला जा सकता है लेकिन जो स्पीड में हमे मिलेगी वह स्टैंड अलोन 5G से कम देखने को मिलेगी। क्योकि असली 5G केवल स्टैंड अलोन 5G है जिसमे अलग से 5G को ध्यान में रखते हुए टावर लगाए जाते है जिससे हमे 5G का असली मज़ा मिलता है। लेकिन क्या आपको पता है कि दुनिया में वर्त्तमान में कौनसे देश में स्टैंड अलोन 5G की स्टेबल सेवा शुरू हो चुकी है तो इसके जवाब है जर्मनी। जर्मनी में वोडाफोन ने इरेक्शन के साथ मिलकर वहा पर स्टैंड अलोन 5G सेवा को शुरू कर दिया है। अगर हम बात करे कि भारत में कौनसी कंपनी किसके साथ मिलकर भारत में 5G सेवा को शुरू करेगी ? तो भारत में वोडाफोन नोकिआ के साथ मिलकर भारत में अपनी 5G सेवा को शुरू करने की तैयारी कर रही है, एयरटेल ने 5G सेवा को शुरू करने के लिए इरेक्शन के साथ साझेदारी की है और अगर बात करे जिओ की तो जिओ ने किसी के साथ भी साझेदारी नहीं की है। जिओ खुद 5G सेवा के लिए काम कर रहा है और खुद 5G उपकरण भारत में बना रहा है। अब देखना यह है कि कौन सबसे पहले भारत में सबसे बेहतर 5G सेवा को शुरू करता है।

%d bloggers like this: