August 5, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

अब गूगल अपने नए पिक्सल फ़ोन में क्वालकॉम की जगह खुद का प्रोसेसर ला सकता है

दुनिया भर में गूगल के पिक्सेल फ़ोन बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय है और ऐसे में इस पिक्सल सीरीज में गूगल सॉफ्टवेयर के मामले बेहतरीन काम करता है। कुछ समय पहले गूगल के सीईओ सुन्दर पिचाई ने घोषणा की थी गूगल अब हार्डवेयर के सेक्टर में भी तेजी से काम कर रहा है और गूगल अपनी की मोबाइल चिप डेवेलप करने में ध्यान दे रहा है। गूगल अब खुद का मोबाइल प्रोसेसर बनाने के लिए काम कर रही है और इसको को गूगल बेहतर से भी बेहतर बनाने के लिए प्रयास कर रहा है। अब रिपोर्ट्स के अनुसार कहा जा रहा है कि गूगल अपना खुद का प्रोसेसर बनाने के मामले में कई आगे निकल गया है और अब आने वाले पिक्सेल 6 फ़ोन में हमे गूगल का खुद का मोबाइल प्रोसेसर देखने को मिल सकता है। वैसे गूगल चिप बनाने के मामले नया नहीं है क्योकि गूगल के पिक्सल फ़ोन्स में प्रोसेसर के अलावा भी गूगल खुद की अलग चिप काम लेता है जिससे पिक्सल फ़ोन में बाकि अन्य फ़ोन से इमेज प्रोसेसिंग और मल्टीटास्किंग काफी बेहतर होती है।

इसके अलावा गूगल टाइटन एम् सिक्योरिटी नाम से भी एक अलग चिप गूगल के पिक्सल्स फ़ोन में होती है जो हमे एडिशनल सिक्योरिटी फीचर्स उपलब्ध कराती है। हालाँकि गूगल को मोबाइल चिप बनाने के क्षेत्र में अनुभव तो है लेकिन गूगल अपने फ़ोन में ज्यादातर क्वालकॉम स्नैपड्रगन प्रोसेसर को काम लेता है। लेकिन गूगल ने अपने पिक्सेल फ़ोन में क्वालकॉम के आईएसपी पर इतना भरोसा नहीं था इसलिए गूगल ने खुद की पिक्सल विसुअल चिप बना ली और अन्य फ़ोन से कई ज्यादा बेहतर इमेज क्वालिटी पेश की। इसके अलावा क्वालकॉम की सिक्योरिटी पर भी इतना भरोसा नहीं था तो खुद की सिक्योरिटी चिप बना ली। अब लग रहा है कि गूगल को दूसरी कंपनी के प्रोसेसर पर भी भरोसा नहीं है इसलिए अब गूगल खुद का प्रोसेसर बना रहा है।

फ़िलहाल खबर यह निकल कर आ रही है कि गूगल अपने प्रोसेसर का डिज़ाइन आर्म कंपनी से करवा रही है यानि आर्म का डिज़ाइन गूगल काम में ले रही है। इसके अलावा यह सैमसंग की 5 nm टेक्नोलॉजी पर आधारित होगा, इसका मतलब यह नहीं है कि गूगल सैमसंग के प्रोसेस्सर काम में लेगा। गूगल केवल सैमसंग की फेब्रिकेशन टेक्नोलॉजी को काम लेगा जिसके द्वारा वह खुद के प्रोसेसर को फेब्रिकेट करेगा। सैमसंग की चिप फेब्रिकेशन टेक्नोलॉजी को कई अन्य कम्पनिया भी काम में लेती है। यहाँ तक कि एप्पल भी सैमसंग से ही अपने प्रोसेसर फेब्रिकेट करवाता है। ऐसे में अब देखना यह है कि गूगल के प्रोसेसर वाले फ़ोन बाजार में कब तक आते है।

%d bloggers like this: