August 5, 2021

वृतांत – Vritaant

खबर, संवाद और साहित्य

आखिर किन कारणों से भारत में तेजी से फैली कोरोना की दूसरी लहर ?

भारत में कोरोना का संकट बहुत ही गंभीर तरीके से फैलता जा रहा है और ऐसे में पूरी दुनिया में भारत में तेजी से फैली कोरोना की दूसरी लहर बहुत ही बड़ा चिंता का विषय है। देश में रोज़ कोरोना से हजारो की संख्या में मौते हो रही है और नए मरीजों का ग्राफ तेजी से ऊपर बढ़ता जा रहा है। भारत में जनवरी से फरवरी के माह तक देश में कोरोना वायरस लगभग खत्म हो गया था लेकिन सरकार द्वारा एक साथ पूरी छूट दिए जाने के कारण देश में बड़े आयोजन तेजी से बढ़ गए और लोग कोरोना को भूल गए। लोगो के मन में कोरोना का डर खत्म हो गया और लोग लापरवाह होकर सभी नियमो को लगातार तोड़ते रहे। ऐसे में देश में कोरोना पूरी तरह से खत्म भी नहीं हुआ था कि देश में भीड़ बढ़ने के कारण धीरे धीरे फिर से कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ने लगी और समय पर प्रतिबंध नहीं लगाए जाने के कारण देश कोरोना वायरस की दूसरी लहर की चपेट में आ गया।

इसके अलावा देश में कोरोना का फिर से फैलने का एक और बड़ा कारण है देश में कोरोना वैक्सीन लगाने की धीमी रफ़्तार। जहा पर देश दो माह में लगभग अपनी आधी से ज्यादा जनसँख्या को कोरोना की वैक्सीन लगा चुके थे, वही भारत में कोरोना वैक्सीन लगाने की रफ़्तार बहुत ही धीमी थी जिसके कारण देश में कोरोना वायरस का संक्रमण आसानी से फैलने लगा। सरकार और लोगो ने कोरोना वायरस के लिए बनाये गए नियमो को नजरअंदाज कर दिया जिसके बाद देश में कोरोना वायरस बेकाबू हो गया। इसके लिए देश की सरकार और लोग दोनों पूरी तरह से जिम्मेदार है। सरकार ने देश में कोरोना का टीकाकरण सही से कराये बिना ही लोगो को पूरी छूट दे दी। जिसके बाद देश में बड़े आयोजनों की संख्या बढ़ गयी और लोगो की भीड़ बढ़ने से कोरोना वायरस फिर भड़क गया।

भारत में फ़िलहाल अस्पतालों में ऑक्सीजन की समस्या सबसे बड़ी है और अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी हो जाने के कारण रोज़ कई मरीज दम तोड़ रहे है। ऐसे में लोगो में अब डर का माहौल बना हुआ और अस्पातलो में भीड़ बढ़ गयी है। लेकिन डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि देश में कोरोना संक्रमित केवल 15 प्रतिशत लोगो को ही ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है जबकि ज्यादातर मरीज घर पर उपचार लेने और जरूरी बातो को ख्याल रखने से ठीक हो सकते है। लेकिन लोग को देश में ऑक्सीजन की कमी की दहशत के कारण पैनिक हो रहे है और अस्पतालों में भर्ती हो रहे है। अब भारत सरकार देश में कोरोना वैक्सीन के वितरण को तेजी से बढ़ाना चाहिए जिससे देश में कोरोना को फैलने पर काबू पाया जा सके।

%d bloggers like this: